बिहार में फर्जी कोरोना जांच रिपोर्ट के गोरखधंधे का भंडाफोड़, पटना के लैब पर छापेमारी में चौंकाने वाला खुलासा

पटना एयरपोर्ट पर बुधवार को एक यात्री राजा बाजार लैब से जारी फर्जी आरटी-पीसीआर रिपोर्ट के आधार पर यात्रा करने की कोशिश करते हुए पकड़ा गया था। फर्जी जांच रिपोर्ट का खुलासा होने पर पटना एयरपोर्ट अथॉरिटी ने युवक को हिरासत में लेकर घटना की जानकारी पुलिस को दी।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बिहार की राजधानी पटना में पुलिस ने एक प्लाज्मा डायग्नोस्टिक लैब में छापेमारी कर बड़ी संख्या में फर्जी आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट जब्त की है। पटना एयरपोर्ट अथॉरिटी की ओर से शिकायत दर्ज कराने के बाद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और शास्त्रीनगर थाने की टीम ने बुधवार शाम राजा बाजार स्थित लैब में छापेमारी की।

दरअसल बुधवार को राजा बाजार लैब से जारी फर्जी आरटी-पीसीआर रिपोर्ट के साथ एक यात्री पटना एयरपोर्ट पर पकड़ा गया था। यात्री फर्जी आरटी-पीसीआर रिपोर्ट के साथ यात्रा करने की कोशिश कर रहा था। फर्जी जांच रिपोर्ट का खुलासा होने पर पटना एयरपोर्ट अथॉरिटी ने युवक को हिरासत में लेकर घटना की जानकारी पुलिस को दी।


पटना के शास्त्री नगर थाना के एसएचओ ने बताया कि छापेमारी के दौरान हमने फर्जी आरटी-रिपोर्ट सहित कई दस्तावेज जब्त किए। लैब के कर्मचारियों ने स्वीकार किया कि फर्जी आरटी-पीसीआर प्रमाण पत्र कुछ लोगों को बेचे गए थे। उन्होंने कहा, "हमने एक लैब अधिकारी को हिरासत में लिया है। फिलहाल जांच की जा रही है।"

बता दें कि नागरिक उड्डयन विभाग की गाइडलाइन के अनुसार देश-विदेश में यात्रा करने के लिए आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट अनिवार्य है। यही कारण है कि कई जगह पर फर्जी जांच रिपोर्ट का गोरखधंधा फल-फूल रहा है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia