गाजियाबाद श्माशान हादसा: मेरठ रोड पर शव रखकर परिजनों का हंगामा, लगा 15 किलोमीटर लंबा जाम

परिजनों की मांग है कि उन्हें 15 लाख रुपये मुआवजा दिया जाए, इसके अलावा एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाए। वहीं जाम लगने के बाद प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं और परिजनों को समझाने का प्रयास कर रहे हैं। इसके अलावा मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है।

फोटो: ANI
फोटो: ANI
user

पवन नौटियाल @pawanautiyal

गाजियाबाद के मुरादनगर श्माशान घाट में हुए हादसे में मृतकों के परिजनों ने मुरादनगर में दो जगह जाम लगा दिया है। जानकारी के मुताबिक एक जगह 4 शव और दूसरी जगह तीन शव रख परिजन प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदर्शन के चलते हाई वे पर 15 किलोम मीटर लंबा जाम लग गया है।

परिजनों की मांग है कि उन्हें 15 लाख रुपये दिए जाएं और एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाए। वहीं जाम लगने के बाद प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं और परिजनों को समझाने का प्रयास कर रहे हैं। इसके अलावा मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है।

आपको बता दें, रविवार दोपहर को मुरादनगर श्मशान घाट के प्रवेश द्वार के साथ बने गलियारे की छत गिरने से मलबे में दबकर 24 लोगों की मौत हो गई और 15 घायल हो गए। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें ईओ निहारिका सिंह, जेई सीपी सिंह, सुपरवाइजर आशीष शामिल हैं। ठेकेदार अजय त्यागी व अन्य अज्ञात लोगों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia