किसान आंदोलनः महीनों से बंद टिकरी बॉर्डर की सड़कें खुलेंगी, दिल्ली पुलिस बैरिकेड्स, कंक्रीट दीवार हटाने में जुटी

दिल्ली पुलिस ने आज कहा था कि टिकरी सीमा और गाजीपुर सीमा पर आपातकालीन मार्ग खोलने की योजना है। किसानों की सहमति मिलने के बाद सीमा पर लगे बैरिकेड्स को हटाया जाएगा। देर शाम इस पर अमल शुरू हो गया और टिकरी बॉर्डर से अवरोध हटाए जाने लगे।

फोटोः ANI
फोटोः ANI
user

नवजीवन डेस्क

कृषि कानून के खिलाफ बीते 11 महीनों से चल रहे किसान आंदोलन के चलते टिकरी बॉर्डर पर बंद सड़क खुलने की खबर सामने आ रही है। दिल्ली पुलिस टिकरी बॉर्डर पर लगी कंक्रीट की दीवार और नुकीली कीलों को हटाने में जुट गई है। हालांकि यह कयास लगाए जा रहे हैं कि इसके पीछे का उद्देश्य बंद हुई सड़कों पर आवागमन शुरू करना है।

दिल्ली पुलिस आज शाम से ही जेसीबी की मदद से कंक्रीट की दीवारों, सीमेंट के बैरिकेड्स को हटाने में जुटी हुई है। दिल्ली पुलिस ने कहा कि टिकरी और गाजीपुर सीमा पर आपातकालीन मार्ग खोलने की योजना पर अमल हो रहा है। दिल्ली पुलिस आयुक्त ने कहा कि स्थिति का आकलन कर हम यह कर रहे हैं। हालांकि, दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि फिलहाल अभी कोई ट्रैफिक मूवमेंट नहीं हो रहा है, बॉर्डर अभी बंद ही है।


यदि दिल्ली पुलिस इन बैरिकेड्स को हटा देती है तो दिल्ली-रोहतक मार्ग खुलने से रोजमर्रा के आवागमन में हो रही परेशानियों से निजात मिल सकती है। वहीं उम्मीद है कि अगले 2 से 3 दिन में पुलिस टिकरी बॉर्डर पर लगे सभी अवरोधों को हटा लेगी और इन रास्तों पर गाड़ियां फिर से दौड़ने लगेंगी। हाल ही में हरियाणा सरकार के अधिकारी टिकरी बॉर्डर पहुंचे थे और स्थिति का जायजा लिया था।

बता दें कि किसान आंदोलन के चलते टिकरी बॉर्डर और गाजीपुर बॉर्डर पर आवागमन बंद होने पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो रही है। पिछली सुनवाई में कोर्ट ने रास्ता बंद होने पर सख्त टिप्पणी की थी। जिसके बाद किसान संगठनों ने कहा था कि रास्ता उन्होंने नहीं, बल्कि पुलिस ने बंद कर रखा है। अब आज पुलिस ने रास्ते खोलने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia