फारूक बोले- हम ग्रेनेडबाज या पत्थरबाज नहीं, नेताओं के गिरफ्तारी पर राहुल ने जताई नाराजगी, पढ़िए अभी तक की सभी बड़ी खबरें

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर के नेताओं की गिरफ्तारी को असंवैधानिक और अलोकतांत्रिक करार दिया है। राहुल ने कहा कि सरकार का यह कदम मूर्खतापूर्ण है। पढ़िए अभी तक की सभी बड़ी खबरें...

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

कश्मीर को तोड़कर नहीं हो सकती राष्ट्रीय एकता, नेताओं को गिरफ्तार करना सरकार का मूर्खतापूर्ण कदम: राहुल गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर के नेताओं की गिरफ्तारी को असंवैधानिक और अलोकतांत्रिक करार दिया है। राहुल ने कहा कि सरकार का यह कदम मूर्खतापूर्ण है। आतंकियों को केंद्र सरकार क्यों मौका दे रही है। सभी नेताओं को तुरंत रिहा किया जाना चाहिए। राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने को लेकर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “जम्मू-कश्मीर को तोड़कर राष्ट्रीय एकता नहीं हो सकती। चुने हुए प्रतिनिधियों को कैद करके और हमारे संविधान का उल्लंघन कर के राष्ट्रीय एकता को आगे नहीं बढ़ाया जा सकता है। इस देश को यहां के लोगों ने बनाया है न कि जमीन के टुकड़ों द्वारा यह बना है। कार्यकारी शक्ति के दुरुपयोग से राष्ट्रीय सुरक्षा पर गंभीर प्रभाव पड़ेगा।”

फारूक अब्दुल्ला बोले- हम ग्रेनेडबाज या पत्थरबाज नहीं, सरकार के फैसले के खिलाफ हम कोर्ट जाएंगे

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के फैसले पर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला मंगलवार को भड़क उठे। उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 पर मोदी सरकार के फैसले के खिलाफ हम कोर्ट जाएंगे। हम पत्थरबाज या ग्रेनेड फेंकने वाले नहीं हैं। ये हमारी हत्या करना चाहते हैं। हम शांति में विश्वास रखते हैं और हम शांति से अपनी लड़ाई लड़ेंगे। फारूक अब्दुल्ला ने आगे कहा कि मेरा बेटा उमर अब्दुल्ला बहुत पीड़ा में है।

फारूक अब्दुल्ला को गिरफ्तार नहीं किया गया ये में 10वीं बार बोल रहा हूं: अमित शाह

गृहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में कहा कि मैं यह 10वीं बार कह रहा हूं की फारूक अब्दुल्ला को गिरफ्तार नहीं किया है। उन्होंने कहा कि हम फारूक अब्दुल्ला को उनकी कनपटी पर बंदूक रखकर यहां नहीं ला सकते।

370 पर मोदी सरकार के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती, याचिका दायर

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने की प्रक्रिया को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है। वकील मनोहर लाल शर्मा ने अपनी याचिका में कहा है कि अनुच्छेद 370 को हटाने के लिए सरकार ने आर्टिकल 367 में जो संशोधन किया है, वह असंवैधानिक है। सरकार ने मनमाने और असंवैधानिक ढंग से कार्रवाई की। सुप्रीम कोर्ट से इस अधिसूचना को असंवैधानिक घोषित कर रद्द करने की मांग की गई है।

जम्मू-कश्मीर की जनता से राय लिए बगैर उनका भारत से संवैधानिक रिश्ता बदल दिया: थरूर

जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पर चर्चा के दौरान लोकसभा में शशि थरूर ने कहा, “जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है इस पर किसी को कोई मतभेद नहीं है। लेकिन इस बिल से लोकतांत्रिक व्यवस्था, वैश्विक परिवेश और हमारी विश्वनीयता को आघात पहुंचा है। आपने अमरनाथ यात्रा को रद्द कर दिया वहां बड़ी संख्या में बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई। आपके पास बहुमत है और आप इसे पास भी कर लेंगे। जम्मू-कश्मीर की जनता से राय लिए बगैर उनका भारत से संवैधानिक रिश्ता बदल दिया।”

बीजेपी की सहयोगी जेडीयू ने लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल का किया विरोध, सदन से किया वॉकआउट

बीजेपी की सहयोगी पार्टी जेडीयू ने लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल का विरोध किया है। जेडीयू ने इस दौरान लोकसभा से वॉकआउट किया। जेडीयू सांसद ललन सिंह ने सदन में कहा कि हम एक दूसरे की विचारधारा को जानते हैं, लेकिन धारा 370 पर सरकार के फैसले का विरोध करते हैं। जेडीयू सांसद ललन सिंह कहा कि अभी मोदी सरकार को आतंकवाद से लड़ना चाहिए था, इस तरह का फैसला नहीं लेना चाहिए था।

उन्नाव कांड: वकील को एयर एंबुलेस से किया गया दिल्ली एम्स में शिफ्ट, कोर्ट ने यूपी के डीजीपी से मांगी रिपोर्ट

उन्नाव रेप कांड की पीड़िता के बाद उनके वकील को भी एयर एंबुलेंस से दिल्ली लाकर एम्स के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है। पीड़िता के वकील को मंगलवार सुबह बेहतर इलाज के लिए विशेष एयर एंबुलेंस से लखनऊ से दिल्ली लाया गया। जबकि पीड़िता को सोमवार शाम को ही किंग जार्ज मेडिकल कॉलेज यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) से एयर एम्बुलेंस से दिल्ली रवाना कर दिया गया था।

टी 20 मैच: वेस्टइंडीज का सफाया करने उतरेगी टीम इंडिया, कई रिकॉर्ड बनाने का है मौका

तीन मैचों की टी-20 सीरीज के पहले दो मैच जीतने के बाद भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 2-0 की अजेय बढ़त ले ली है। तीसरा मैच मंगलवार को प्रोविडेंस स्टेडियम में खेला जाएगा और भारत का लक्ष्य इस सीरीज को 3-0 से अपने नाम करने का होगा। इसी मैच से सही मायने में भारत के वेस्टइंडीज दौरे का आगाज होगा क्योंकि अभी तक खेले गए दोनों टी-20 मैच अमेरिका में आयोजित किए गए थे और अब भारतीय टीम कैरेबियाई धरती पर पहुंच चुकी है।

Published: 6 Aug 2019, 6:00 PM
लोकप्रिय