दिल्ली: शाहीन बाग में 'बुलडोजर एक्शन' का डर! फर्नीचर बाजार में अफरातफरी का माहौल, दुकानदार खुद हटा रहे सामान

अतिक्रमण हटाए जाने को लेकर जो एक्शन होना है उसका डर शाहीन बाग (Shaheen bagh) में देखा जाने लगा है। फर्नीचर बाजार में दुकानदार खुद ही ऐसा सामान हटा रहे हैं जो आमतौर पर दुकानों के बाहर सड़क पर रहता है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दक्षिण दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) ने राजधानी में अवैध अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाने की कवायद तेज करने के तहत गुरुवार को सरिता विहार और जसोला इलाके में अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई करने का प्लान बनाया लेकिन पुलिस की तरफ से निगम को सूचित कर दिया गया है कि यह आज संभव नहीं हो सकेगा। इस बीच लोगों के बीच बुलडोजर एक्शन का असर भी दिख रहा है। अतिक्रमण हटाए जाने को लेकर जो एक्शन होना है उसका डर शाहीन बाग (Shaheen bagh) में देखा जाने लगा है। फर्नीचर बाजार में दुकानदार खुद ही ऐसा सामान हटा रहे हैं जो आमतौर पर दुकानों के बाहर सड़क पर रहता है।

बता दें कि SDMC ने आज ही बताया था कि जसोला इलाके में सामान्य अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया जाना है। शाहीन बाग जसोला के पास ही पड़ता है। उधर, सरिता विहार के SHO राकेश कुमार ने SDMC को पत्र लिखकर साफ कर दिया गया है कि, सरिता विहार स्टेशन पुलिस कर्मी के अन्य कानून व्यवस्था में व्यस्त होने के कारण निगम की कार्रवाई के लिए पर्याप्त पुलिस कर्मी उपलब्ध कराना संभव नहीं है। क्षेत्र में अतिक्रमण अभियान की तिथि निर्धारित करने के लिए कम से कम 10 दिनों की पूर्व सूचना पुलिस को दी जाए, ताकि अतिरिक्त पुलिस कर्मियों को तैनात किया जा सके।

दरअसल वार्ड नंबर 101 - एस के सरिता विहार इलाके में अतिक्रमण करने वालों पर बुल्डोजर का पंजा कसने की तैयारी निगम ने कर ली थी। वार्ड नंबर 101 एस सरिता विहार के पॉकेट सी, डी, ई, के, एल, एम और एन सरिता विहार और जसोला मेट्रो स्थित जसोला गांव इलाके में नगम अपनी कार्रवाई 11 बजे शुरू करने जा भी रहा था, हालंकि अब इस पर रोक लग गई है।

बुधवार को ही निगम मेयर ने मदनपुर खादर, सरिता विहार और जैतपुर के इलाके का दौरा किया था, जिसके बाद यह कार्रवाई की जा रही थी, एसडीएमसी के मेयर मुकेश सूर्यण ने यह पहले ही साफ कर दिया था कि, निगम उन लोगों के खिलाफ जल्द ही कार्रवाई करेगा जिन्होंने सरकारी जमीन पर अतिक्रमण किया है।

दरअसल दिल्ली जहांगीरपुरी हिंसा के बाद भाजपा दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने तीनों निगमों को पहले अतिक्रमण को लेकर पत्र लिखा था। इसी पत्र के बाद जहांगीरपुरी इलाके में निगम की कार्रवाई के बाद तीनों निगमों ने अतिक्रमण के खिलाफ अपनी मुहिम को तेज कर दिया है। हालांकि जहांगीरपुरी में बुल्डोजर चलाने का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है, जिसके बाद उस इलाके में इस कार्रवाई को रोका गया है। लेकिन निगम अब अब शाहीन बाग, सरिता विहार इलाके में बुल्डोजर चलाने की तैयारी कर रहा है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia