यूपी: सहारनपुर में महिला बीजेपी नेता ने विधायक के घर पर की आत्मदाह की कोशिश, हालात गंभीर, लगाए संगीन आरोप

यूपी के सहारनपुर में बीजेपी नेता शशि त्यागी ने शनिवार को आत्मदाह का प्रयास किया। शशि त्यागी ने देवबंद से पार्टी के ही विधायक बृजेश सिंह पर परिवार का उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस-प्रशासन औ पार्टी में अफरा-तफरी मच गई।

फोटो: आस मोहम्मद कैफ
फोटो: आस मोहम्मद कैफ

आस मोहम्मद कैफ

बीजेपी महिला नेता ने पार्टी के विधायक बृजेश सिंह के आवास पर आत्मदाह करने की कोशिश की और इसके बाद नाकामयाब होने पर मिट्टी का तेल (केरोसिन) पी लिया। घटनाक्रम के बाद बीजेपी महिला नेता की हालात बिगड़ गई। जिसे आनन फानन में देवबंद चिकित्सालय ले जाया गया जहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।

पीड़िता महिला शशि त्यागी बीजेपी की जिला पंचायत सदस्य है। महिला के परिजनों के मुताबिक, वो अपनी ही पार्टी के विधायक कुंवर बृजेश सिंह के उत्पीड़न से त्रस्त थी। घटना की जड़ में विधायक कुंवर बृजेश सिंह द्वारा महिला नेता शशि त्यागी के परिजनों और रिश्तेदारों के विरुद्ध दर्ज मुकदमों में विधायक की कथित सिफारिश को बताया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, शशि त्यागी ने विधायक बृजेश सिंह के आवास पर जाकर आत्मदाह करने की चेतावनी दी थी। जिसके बाद ऐसी घटना ना हो इसके लिए सुरक्षा की व्यवस्था की गई थी, लेकिन आज सुबह शशि त्यागी हाथ मे मिट्टी का तेल(केरोसीन) लेकर देवबंद विधायक कुंवर बृजेश सिंह के आवास पर पहुंची और वहां पहुंचकर अपने ऊपर तेल डाल लिया। आनन-फानन में पुलिस और बीजीपी नेताओं में उनसे मिट्टी का तेल का केन छीन लिया।

वहीं प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि महिला नेता शशि त्यागी आत्मदाह करने में नाकाम रहने पर मिट्टी का तेल पी लिया। इसकी पुष्टि स्थानीय देवबंद चिकित्सक प्रभारी डॉक्टर इंद्राज ने भी की। उन्होंने बताया कि शशि त्यागी की खराब स्थिति को देखते हुए उन्हें जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

गौरतलब है कि एक दिन पहले शशि त्यागी ने देवबंद में प्रेस कांफ्रेंस की थी, जिसमें अपनी ही पार्टी के विधायक बृजेश सिंह पर गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि विधायक उनके परिवार और रिश्तेदारों को फर्जी मुकदमों में फंसा रहे हैं। विधायक के दबाव में पुलिस लगातार उनके घर पर दबिश दे रही है। उनकी कहीं सुनवाई नहीं हो रही है इसलिए वो आत्मदाह करने को विवश है।

विधायक बृजेश सिंह के मुताबिक, गांव के ही एक व्यक्ति ने शशि त्यागी के पिता के विरुद्ध केस दर्ज कराया था। जिसमें उनका कोई लेना देना नही है। जिस दूसरे मुक़दमे की वो बात कर रही है वो युवती से छेड़छाड़ का मामला है जिसमे वो कुछ नहीं कर सकते।

देवबंद से समाजवादी पार्टी के नेता सिकंदर गाड़ा के मुताबिक, बीजेपी की सरकार में पुलिस को मोहरा बनाकर अपनी खुन्नस निकालने के बहुत से मामले आ रहे हैं। वैसे तो यह बीजेपी का निजी मामला है लेकिन पुलिस के दुरुपयोग के मामलों को देखते हुए इस बात से इंकार नही किया जा सकता कि मुकदमे झूठे दर्ज किए गए हो।

देवबंद के इंस्पेक्टर आनंद देव मिश्रा के मुताबिक, उनके यहां शशि त्यागी के परिजनों के विरुद्ध दर्ज मुकदमे में विवेचना चल रही हैं। शुक्रवार को उन्होंने विद्धायक आवास पर आत्मदाह करने की धमकी दी थी। जिसको लेकर हम अलर्ट थे। आज वो पहुंचीं और खुद पर तेल डालकर आत्मदाह का प्रयास किया जिसको हमनें रोका।

Published: 21 Sep 2019, 5:59 PM
लोकप्रिय