केरल में बाढ़ का कहर, वायनाड के राहत शिविर में पहुंचे राहुल गांधी, पीड़ितों से मिलने के बाद लोगों से की ये अपील

वायनाड दौर पर पहुंचे राहुल गांधी ने फेसबुक पर एक पोस्ट में लोगों से अपील करते हुए लिखा कि मेरा संसदीय क्षेत्र वायनाड बाढ़ से तबाह हो गया है, हजारों लोग बेघर हो गए हैं और उन्हें राहत शिविरों में पहुंचाया गया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

केरल में बारिश और बाढ़ से हाहाकार मचा हुआ है। बारिश और बाढ़ की चपेट में आने से अब 76 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं वायनाड में बाढ़ ने जबरदस्त तबाही मचाई है। हालात का जायजा लेने के लिए स्थानीय सांसद और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी वायनाड पहुंच हुए हैं।

सोमवार को कैथपॉयिल के राहत शिविर में पहुंचे राहुल गांधी ने पीड़ितों से बात करते हुए कहा, “आपके सांसद के रूप में मैंने मुख्यमंत्री पिनराई विजयन को फोन किया और उनसे यथासंभव मदद करने का अनुरोध किया। मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी फोन किया और उनसे बताया कि केरल को केंद्र से मदद की जरूरत है।”

केरल में बाढ़ का प्रकोप अभी जारी रहने रहने की आशंका है। केरल के डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी(केएसडीएमए) के मुताबिक 8 अगस्त से 11 अगस्त के बीच 72 लोगों की मौत हो चुकी है, 58 लोग लापता हैं, 32 लोग बुरी तरह से घायल हैं।

इससे पहले राहुल गांधी ने सोशल मीडिया फेसबुक पर पर एक पोस्ट में लोगों से अपील करते हुए लिखा, ‘‘मेरा संसदीय क्षेत्र वायनाड बाढ से तबाह हो गया है, हजारों लोग बेघर हो गए हैं और उन्हं राहत शिविरों में पहुंचाया गया है।’’ उन्होंने लिखा, ‘‘हमें तत्काल पानी की बोतलों, चटाई, कंबल, अधो वस्त्र, धोती, नाइटगाउन, बच्चों के कपड़े, चप्पल, सैनेटरी नैपकिन, साबुन, टूथब्रश, टूथपेस्ट, डेटॉल, सर्फ, ब्लीचिंग पाउडर और क्लोरीन की जरूरत है।’’

उन्होंने लोगों से बिस्कुट, चीनी, मूंग, दाल, चना, नारियल तेल, नारियल, सब्जी, करी पाउडर, ब्रेड और बच्चों का खाना देने की भी अपील की है। राहु गांधी ने लोगों से राहत सामग्री मलप्पुरम जिले में बनाए गए केन्द्रों में भेजने को कहा है।

इससे पहले राहुल गांधी ने रविवार को कहा कि उन्होंने बाढ़ प्रभावित केरल की मदद के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की थी, वह इस के लिए राजी हो गए हैं। वह सोमवार को अपने लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र वायनाड जाएंगे, जो बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित है। मलप्पुरम कलेक्टरेट में हुई समीक्षा बैठक में भाग लेने के तुरंत बाद सांसद राहुल ने कहा, “यह त्रासदी है और सभी को केरल की मदद करनी चाहिए। मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद के लिए कहा है, वह इसके लिए राजी हो गए हैं।” बता दें कि वायनाड में बाढ़ से अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है और 40,000 से ज्यादा लोग 203 राहत शिविरों में पनाह लिए हुए हैं।

Published: 12 Aug 2019, 12:49 PM
लोकप्रिय