बिहार और असम में बाढ़ का कहर, अब तक 17 लोगों की गई जान, 15 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित

असम में बाढ़ और बारिश से सबसे ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं। राज्य में ब्रह्मपुत्र समेत 10 नदियों का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर हैं। प्रदेश के 33 में से 25 जिलों में 15 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बिहार और असम में बारिश और बाढ़ ने कहर बरपा रखा है। दोनों राज्यों में अब तक 17 लोगों की जान जा चुकी है। बिहार के 6 जिले बाढ़ की भीषण चपेट में हैं। राज्य में कोसी और गंडक समेत 5 नदियां उफान पर हैं, जिनका पानी गांवों में कहर बरपा रहा है। बिहार के आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार, नदियों का जलस्तर बढ़ने से चंपारण, मधुबनी, शिवहर, सीतामढ़ी, अररिया और किशनगंज में जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। बाढ़ और बारिश के बीच किशनगंज में 2 बच्चों की मौत गई है। एनडीआरएफ की टीमें राहत और बचाव के काम में लगातार जुटी हुई हैं। बाढ़ की वजह से 7 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है।

वहीं, असम में बाढ़ और बारिश की जवह से सबसे ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं। बाढ़ की वजह से लाखों लोग प्रभावित हुए हैं। राज्य में ब्रह्मपुत्र समेत 10 नदियों का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर हैं। प्रदेश के 33 में से 25 जिलों में 15 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। बाढ़ बारिश की वजह से काजीरंगा नेशनल पार्क का 70 प्रतिशत से ज्यादा हिस्सा डूब गया है। राज्य का बारपेटा जिला सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है। इस जिले के 5 लाख से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने शनिवार को केंद्र सरकार को फोन कर राज्य में बाढ़ के हालात की जानकारी दी थी। उन्होंने बताया कि बाढ़ से प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने के लिए बड़े स्तर पर राहत और बचाव का काम चलाया जा रहा है।

लोकप्रिय