यूपी के पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर बनाएंगे नई राजनीतिक पार्टी, योगी के खिलाफ गोरखपुर से लड़ेंगे चुनाव

अमिताभ ठाकुर उत्तर प्रदेश के बेहद चर्चित अधिकारी रहे हैं और उन्होंने प्रशासन से विभाग तक कई तरह के भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाई है। वह और उनकी पत्नी नूतन ठाकुर लंबे समय से विभिन्न स्तरों पर गलत कामों को उजागर करने के लिए आरटीआई का इस्तेमाल कर रहे हैं।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर ने जल्द ही अपनी खुद की राजनीतिक पार्टी शुरू करने का ऐलान किया है। पार्टी के लिए 'अधिकार सेना' नाम का प्रस्ताव पेश करते हुए ठाकुर ने अपने समर्थकों से कहा है कि यदि वे चाहें तो वैकल्पिक नाम सुझा सकते हैं। उन्होंने पार्टी के मिशन और संरचना पर भी सुझाव मांगे हैं, यह कहते हुए कि पार्टी गठन की प्रक्रिया बहुत जल्द शुरू की जाएगी।

इस साल की शुरूआत में सरकार द्वारा सेवा से 'अनिवार्य रूप से सेवानिवृत्त' किए गए अमिताभ ठाकुर पहले ही आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में गोरखपुर से सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ लड़ने के इरादे की घोषणा कर चुके हैं। इसी कारण 21 अगस्त को पुलिस ने उन्हें अपना अभियान शुरू करने के लिए गोरखपुर जाने से रोक दिया था।


गौरतलब है कि पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को पहले ही सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी द्वारा दल में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया जा चुका है और पीस पार्टी ने भी आगामी चुनावों में उनकी उम्मीदवारी का समर्थन करने की पेशकश की है।

बता दें कि पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर उत्तर प्रदेश के बेहद चर्चित अधिकारी रहे हैं और उन्होंने प्रशासन से लेकर विभाग में कई तरह के भ्रष्टाचरा के खिलाफ आवाज उठाई है। वह और उनकी पत्नी नूतन ठाकुर सामाजिक कार्यकर्ता की हैसियत से लंबे समय से विभिन्न स्तरों पर गलत कामों को उजागर करने के लिए आरटीआई का इस्तेमाल कर रहे हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia