हालात

पुलवामा आतंकी हमले के गुनहगार मसूद अजहर को लगा बड़ा झटका, फ्रांस में जब्त होगी आतंक के आका की संपत्ति

फ्रांस सरकार ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना और पुलवामा आतंकी हमले के गुनहगार मसूद अजहर की संपत्तियां जब्त करने का फैसला लिया। इससे पहले फ्रांस, अमेरिका और ब्रिटेन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएचसी) में मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित करने के लिए प्रस्ताव पेश किया था।

फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के गुनहगार जैश के मुखिया मसूद अजहर को बड़ा झटका लगा है। फ्रांस की सरकार ने आतंकी मसूद अजहर की संपत्ति जब्त करने का फैसला किया है। फ्रांस की सरकार ने कहा है कि आतंकवाद के साथ लड़ाई में वह हमेशा भारत के साथ है।

हाल ही में पुलवामा आतंकी हमले के आरोपी जैश के मुखिया मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद में फ्रांस, ब्रिटेन और अमेरिका ने प्रस्ताव पेश किया था। लेकिन चीन ने अड़ंगा लगाकर मसूद को एक बार फिर बचा लिया। बता दें कि पिछले 10 साल में यह चौथी बार था, जब चीन ने मसूद अजहर वैश्विक आतंकी घोषित होने से बचा लिया हो। इससे नाराज संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने चेतावनी दी कि यदि चीन अपनी इस नीति पर अड़ा रहा, तो जिम्मेदार सदस्य परिषद में अन्य कदम उठाने पर मजबूर हो सकते हैं।

बता दें कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले में हुए आतंकी हमले में 49 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने लिया था। आतंकी हमले के खिलाफ भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को पीओके में घुसकर जैश के ठिकानों को तबाह कर दिया था, जिसके बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव पैदा हो गया था।

बता दें कि मसूद अजहर भारत में कई बार आतंकी हमलों को साजिश रचने के साथ उन्हें अंजाम दे चुका है। वह 2001 में संसद पर हुए हमले का भी दोषी है। इस दौरान 9 सुरक्षाकर्मियों की जान गई थी। इसके अलावा जनवरी 2016 में जैश के आतंकियों ने पंजाब के पठानकोट एयरबेस और इसी साल सितंबर में उरी में सेना के हेडक्वार्टर पर हमला किया था।

Published: 15 Mar 2019, 3:01 PM
लोकप्रिय