पूरी तरह से गौतम अडानी के हाथ में आया मुंबई एयरपोर्ट, कंपनी ने संभाली प्रबंधन की जिम्मेदारी

उद्योगपति गौतम अडानी का देश के दूसरे सबसे व्यस्तम एयरपोर्ट मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पूरी तरह से नियंत्रण हो गया है। अडानी समूह की कंपनी ने मंगलवार को मुंबई एयरपोर्ट का प्रबंधन पूरी तरह से अपने हाथ में ले लिया।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

गुजरात के अरबपति कारोबारी गौतम अडानीणी के अडाणी समूह की कंपनी अडानी एयरपोर्ट होल्डिंग्स लिमिटेड (एएएचएल) ने मुंबई एयरपोर्ट का प्रबंधन पूरी तरह से अपने हाथ में ले लिया। अब तक इस एयरपोर्ट का संचालन जीवीके समूह द्वारा किया जाता था। लेकिन अडानी समूह ने आज टेकओवर पूरा कर लिया।

गौतम अडानी ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। अडानी ने ट्वीट किया, “वर्ल्ड क्लास मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट के मैनेजमेंट का टेकओवर करके हमें खुशी है। मुंबई को गौरवान्वित महसूस कराना हमारा वादा है। अडानी समूह बिजनेस, लक्जरी और मनोरंजन के लिए भविष्य का एयरपोर्ट इकोसिस्टम खड़ा करेगा। हम हजारों स्थानीय लोगों को नया रोजगार देंगे।”


अडानी ग्रुप बीते कुछ सालों से एविएशन सेक्टर में अपनी पकड़ मजबूत कर रहा है और मुंबई एयरपोर्ट के प्रबंधन पर नियंत्रण इस दिशा में बड़ा कदम है। मुंबई एयरपोर्ट यात्री और माल यातायात दोनों दृष्टि से भारत का दूसरा सबसे व्यस्त एयरपोर्ट है। अपने पोर्टफोलियो में आठ हवाई अड्डों के साथ, अडानी की कंपनी अब भारत की सबसे बड़ी एयरपोर्ट प्रबंधन कंपनी बन गई है। यह 25 प्रतिशत हवाई अड्डों का प्रबंधन करेगी।

अडानी की कंपनी एएएचएल ने पिछले साल मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (एमआईएएल) में दो हिस्सेदार से 23.5% की हिस्सेदारी खरीदी थी। ये दो हिस्सेदार दक्षिण अफ्रीका की बिडवेस्ट (13.5%) और एयरपोर्ट कंपनी ऑफ साउथ अफ्रीका (10%) थी। इसके अलावा अडानी समूह ने एमआईएएल में जीवीके समूह की 50.5% हिस्सेदारी खरीदने का समझौता पिछले साल अगस्त में किया था। इसके बाद मुंबई एयरपोर्ट का पूरा प्रबंधन अडानी समूह के पास आ गया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia