गोवाः दिगंबर कामत ने दलबदल के खिलाफ विधेयक लाने का किया ऐलान, कांग्रेस चलाएगी राज्यव्यापी अभियान

दिगंबर कामत ने कहा कि दलबदल से लोकतांत्रिक कामकाज पर पड़ने वाले दुष्प्रभावों के बारे में लोगों में जागरूकता पैदा करने के लिए कांग्रेस राज्यव्यापी अभियान चलाएगी। उन्होंने आगे कहा कि यह अभियान लोगों को उनके लोकतांत्रिक अधिकारों के बारे में प्रबुद्ध भी करेगा।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में विपक्ष के नेता दिगंबर कामत ने मंगलवार को कहा कि वह दलबदल को स्थायी रूप से समाप्त करने के लिए मौजूदा दलबदल विरोधी कानून में महत्वपूर्ण बदलाव की मांग करते हुए एक प्राइवेट मेंबर बिल पेश करेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री कामत ने यह भी कहा कि दलबदल के संकट को केवल क्रांतिकारी कदम उठाकर ही समाप्त किया जा सकता है।

दिगंबर कामत ने कहा, "लोगों के प्रति प्रत्येक निर्वाचित प्रतिनिधि की जवाबदेही और जिम्मेदारी तय होनी चाहिए। दलबदल को समाप्त करने के लिए क्रांतिकारी कदम उठाने का समय आ गया है। एक दल से दूसरे दल में दलबदल को स्थायी रूप से समाप्त करने के लिए दल-बदल विरोधी कानून में महत्वपूर्ण बदलाव की मांग करते हुए गोवा विधानसभा में एक प्रस्ताव पेश करके मैं बदलाव लाने के लिए पहला कदम उठा रहा हूं।"


वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा कि दल-बदल से लोकतांत्रिक कामकाज पर पड़ने वाले दुष्प्रभावों के बारे में लोगों में जागरूकता पैदा करने के लिए कांग्रेस राज्यव्यापी अभियान चलाएगी। उन्होंने आगे यह भी कहा कि यह अभियान लोगों को उनके लोकतांत्रिक अधिकारों के बारे में प्रबुद्ध भी करेगा और उन्हें अपने निर्वाचित प्रतिनिधियों को मतदाताओं द्वारा दिए गए जनादेश के प्रति जवाबदेह और जिम्मेदार ठहराने के लिए प्रेरित करेगा।

बता दें कि गोवा विधानसभा का मानसून सत्र 28 जुलाई से आयोजित किया गया है। राज्य में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान सामने आई अव्यवस्था के कारण सत्र के हंगामेदार होने की संभावना है। माना जा रहा है कि कांग्रेस इस सत्र में विभिन्न मुद्दों को जोरदार ढंग से उठाकर बीजेपी की प्रमोद सांवत सरकार को घेरेगी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia