नाबालिग से छेड़छाड़ केस में गोवा के स्विमिंग कोच बर्खास्त, खेल मंत्री बोले- इन्हें देश में कहीं नौकरी न दी जाए

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने गुरुवार को कहा कि नाबालिग लड़की का कथित तौर पर यौन शोषण करने के कारण बर्खास्त किए गए गोवा के मुख्य स्विमिंग कोच सुरजीत गांगुली को पूरे भारत में कहीं नौकरी न दी जाए।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

गोवा टीम के मुख्य स्विमिंग कोच सुरजीत गांगुली को एक नाबालिग लड़की के साथ छेड़छाड़ के मामले में बर्खास्त कर दिया गया है। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें कोच को लड़की के साथ छेड़छाड़ करते हुए देखा जा सकता है।

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने गुरुवार को कहा कि नाबालिग लड़की का कथित तौर पर यौन शोषण करने के कारण बर्खास्त किए गए गोवा के मुख्य स्विमिंग कोच सुरजीत गांगुली को पूरे देश में कहीं नौकरी न दी जाए।

रिजिजू ने ट्वीट कर कहा, “मैंने घटना के बारे में पूरी जानकारी ली है। गोवा स्विमिंग एसोसिएशन ने कोच सुरजीत गांगुली के अनुबंध को समाप्त कर दिया है। मैं स्विमिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) से यह सुनिश्चित करने के लिए कह रहा हूं कि इस कोच को पूरे भारत में कहीं भी नौकरी न दी जाए। यह सभी फेडरेशन पर लागू होता है।”

सोशल मीडिया पर छेड़छाड़ वीडियो सामने आने के बाद एसएफआई के अध्यक्ष दिगंबर कामत ने पुष्टि की कि ट्विटर पर वीडियो के सामने आने के बाद घोष को बर्खास्त कर दिया गया है। कामत ने कहा कि हमने वीडियो के अधार पर स्वत: संज्ञान लेते हुए कार्रवाई की है।

टेलीग्राफ की एक रिपोर्ट के अनुसार, घोष ने अंतरराष्ट्रीय स्विमिंग प्रतियोगिताओं में कुल 12 पदक जीते हैं। उन्होंने 1984 में हांगकांग में हुए एशियन स्विमिंग चैंपियनशिप में पहली बार पदक जीता था।

लोकप्रिय