गोवाः बीजेपी सरकार के मंत्री का सनसनीखेज दावा, नौसेना छिपकर राज्य में शासन करने की कर रही है कोशिश

गोवा में बीजेपी की प्रमोद सावंत सरकार में परिवहन मंत्री मौविन गोडिन्हो ने भारतीय नौसेना द्वारा गोवा के एकमात्र हवाईअड्डे के 20 किलोमीटर के क्षेत्र में रियल एस्टेट विकास को रोकने और विनियमित करने के प्रस्ताव को भद्दा करार देते हुए नौसेना पर ही हमला किया है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

आईएएनएस

गोवा की बीजेपी सरकार के परिवहन मंत्री मौविन गोडिन्हो ने भारतीय नौसेना पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने देश की जल सीमाओं की हिफाजत करने वाली सेना के अधिकारियों पर छिपकर गोवा पर शासन करने का आरोप लगाया है। उन्होंने हमला करते हुए आरोप लगाया कि नौसेना अधिकारियों ने प्रमुख रियल एस्टेट के बड़े हिस्से पर कब्जा कर लिया है और नागरिकों को भूमि संसाधनों के उपयोग से वंचित कर दिया है।

गोवा में बीजेपी की प्रमोद सावंत सरकार में परिवहन मंत्री मौविन गोडिन्हो ने मंगलवार को भारतीय नौसेना द्वारा गोवा के एकमात्र हवाईअड्डे के 20 किलोमीटर के क्षेत्र में रियल एस्टेट विकास को रोकने और विनियमित करने के प्रस्ताव को भद्दा करार दिया है। यह हवाईअड्डा तटीय शहर वास्को के करीब स्थित नेवल बेस आईएनएस हंस के अधिकार क्षेत्र के बाहर संचालित होता है।

मौविन गोडिन्हो ने कहा, "गोवावासी क्या करेंगे? वे कहां जाएंगे? क्या यह यहां आने और गोवावासियों पर शासन करने की नौसेना या उनके अभियान की चाल है? हमारी निर्वाचित सरकार है। हम लोकतंत्र में हैं। कोई पागल आदमी ही यह सिफारिश कर सकता है कि हवाईअड्डे के आस-पास 20 किलोमीटर क्षेत्र को विकसित नहीं किया जा सकता या सिर्फ एक मंजिल की इमारतें बनाई जा सकती हैं।"

मौविन गोडिन्हो द्वारा प्रस्ताव का विरोध करने पर मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने 22 अक्टूबर को एक बैठक बुलाई है, जहां राज्य सरकार और भारतीय नौसेना के सभी संबंधित लोग सैन्य इकाई की सुरक्षा बढ़ाने के उद्देश्य से लाए गए नौसेना के प्रस्ताव पर चर्चा करेंगे। बता दें कि गोवा के ज्यादातर भूभाग रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत आने के कारण राजनीतिक दल भारतीय नौसेना और थल सेना पर आरोप लगाती रही हैं कि गोवा में विकास के लिए सीमित भूसंसाधन हैं और नौसेना और थल सेना उन जमीनों पर कब्जा कर रही हैं।

लोकप्रिय