कोरोना के मोर्चे पर अच्छी खबर! फाइजर की एंटीवायरल गोली मौतों में ला सकती है 89% की कमी, लेकिन ये है शर्त

कंपनी ने एक बयान में कहा कि फाइजर की पैक्सलोविड नामक गोली गंभीर बीमारी के विकास के उच्च जोखिम वाले वयस्कों के लिए अस्पताल में भर्ती होने और मृत्यु के जोखिम को 89 प्रतिशत तक कम कर सकती है, यदि इसे तीन दिनों के भीतर दिया जाए।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

अमेरिकी दवा निर्माता फाइजर ने शुक्रवार को घोषणा की कि कोविड-19 के खिलाफ उसकी नई एंटीवायरल गोली अस्पताल में भर्ती होने और होने वाली मौतों को काफी कम कर सकती है। मर्क के मोलनुपिरवीर के बाद यह दूसरी एंटीवायरल गोली है, जिसने जोखिम को आधा कर दिया है।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि फाइजर की पैक्सलोविड नामक गोली गंभीर बीमारी के विकास के उच्च जोखिम वाले वयस्कों के लिए अस्पताल में भर्ती होने और मृत्यु के जोखिम को 89 प्रतिशत तक कम कर सकती है, यदि इसे तीन दिनों के भीतर दिया जाए।

इसने कहा कि यह आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण के लिए 'जितनी जल्दी हो सके' खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) को अपना डेटा जमा करने की योजना बना रहा है।

फाइजर के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी अल्बर्ट बौर्ला ने बयान में कहा, "आज की खबर इस महामारी की तबाही को रोकने के वैश्विक प्रयासों में एक वास्तविक गेम-चेंजर है।"

उन्होंने कहा, "अगर नियामक अधिकारियों द्वारा अनुमोदित या अधिकृत किया जाता है, तो रोगियों के जीवन को बचाने, कोविड-19 संक्रमण की गंभीरता को कम करने और दस में से नौ अस्पतालों को खत्म करने की क्षमता होती है।"

परिणाम एक नैदानिक परीक्षण पर आधारित हैं, जिसमें 1,219 वयस्क शामिल थे, जो कोविड-19 से संक्रमित थे और जिनमें हल्के या मध्यम लक्षण थे।


प्रतिभागियों को बेतरतीब ढंग से या तो प्लेसीबो गोलियों या सक्रिय दवा का एक कोर्स लेने के लिए सौंपा गया था। सक्रिय दवा समूह के तीन लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया और किसी की मृत्यु नहीं हुई। प्लेसीबो समूह में 27 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया और सात की मौत हो गई।

कंपनी ने कहा कि गोली ने चिंता के परिसंचारी रूपों के साथ-साथ अन्य ज्ञात कोरोनविर्यूज के खिलाफ इन व्रिटो गतिविधि में शक्तिशाली एंटीवायरल का प्रदर्शन किया है, जो कई प्रकार के कोरोनावायरस संक्रमणों के लिए चिकित्सीय के रूप में इसकी क्षमता का सुझाव देता है।

इस एंटीवायरल थेरेपी को विशेष रूप से मौखिक रूप से प्रशासित करने के लिए डिजाइन किया गया है, ताकि इसे संक्रमण के पहले संकेत पर रोगियों को गंभीर बीमारी से बचने में मदद की जा सके।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia