गोरखपुर: 'डेरा डालो,घेरा डालो' आंदोलन से डरी योगी सरकार? दलित नेता, पूर्व DIG, पत्रकार समेत कई लोगों को किया अरेस्ट

10 अक्टूबर को पूरे दिन चले डेरा डालो , घेरा डालो आंदोलन के बाद रात को पुलिस ने अम्बेडकर जन मोर्चा के मुख्य संयोजक श्रवण कुमार निराला सहित कई नेताओं को हिरासत में ले लिया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

गोरखपुर में मंगलवार को गोरखपुर कमिश्नर कार्यालय में विशाल धरना प्रदर्शन करने वाले दलित नेता श्रवण कुमार निराला और सीमा गौतम को कई लोगों के साथ पुलिस ने हिरासत में ले लिया। ये लोग दलित, पिछड़ा, मुस्लिम, गरीब मजदूर भूमिहीन परिवारों को एक-एक एकड़ जमीन देने की मांग कर रहे थे। इनके खिलाफ शिकायत राजेश कुमार शर्मा नाम के शख्स ने की है ।

गौरतलब है कि 10 अक्टूबर को पूरे दिन चले डेरा डालो , घेरा डालो आंदोलन के बाद रात को पुलिस ने अम्बेडकर जन मोर्चा के मुख्य संयोजक श्रवण कुमार निराला सहित कई नेताओं को हिरासत में ले लिया। इतना ही नहीं इस कार्यक्रम में शामिल होने वाले पूर्व आईजी और दलित चिंतक एसआर दारापुरी और लेखक डॉ सिद्धार्थ को भी हिरासत में लिया गया है।


गौरतलब है कि अम्बेडकर जन मोर्चा पिछले तीन सालों से दलित, पिछड़ा, मुस्लिम गरीब मजदूर भूमिहीन परिवारों की आवाज उठा रही है। इन लोगों की मांग है कि एक-एक एकड़ जमीन दलित, पिछड़ा, मुस्लिम गरीब मजदूर भूमिहीन परिवारों को मिले। इसी आंदोलन के तहत मंगलवार को गोरखपुर कमिश्नर कार्यालय पर डेरा डालो, घेरा डालो आंदोलन’ किया गया था, जिसमें हजारों हजार लोगों ने शिरकत की थी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;