मणिपुर में ताजा हिंसा के बाद सरकार की बढ़ी टेंशन, 9 जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं का निलंबन बढ़ाया

नौ जिले चंदेल, काकचिंग, चुराचांदपुर, बिष्णुपुर, कांगपोकपी, इंफाल पश्चिम, थौबल, तेंगनौपाल और इंफाल पूर्व हैं।

फोटो IANS
फोटो IANS
user

नवजीवन डेस्क

मणिपुर में हाल ही में सामने आई हिंसक घटनाओं से उत्पन्न कानून और व्यवस्था की स्थिति को ध्यान में रखते हुए मणिपुर सरकार ने मंगलवार को 9 जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं का निलंबन अगले 15 दिनों के लिए बढ़ा दिया है। नौ जिले चंदेल, काकचिंग, चुराचांदपुर, बिष्णुपुर, कांगपोकपी, इंफाल पश्चिम, थौबल, तेंगनौपाल और इंफाल पूर्व हैं।

शनिवार से टेंग्नौपाल जिले के मोरेह में संदिग्ध कुकी उग्रवादियों के हमलों की विभिन्न घटनाओं में मणिपुर पुलिस के 10 कमांडो और एक बीएसएफ जवान घायल हो गए हैं।

नए साल के पहले दिन सोमवार को थौबल जिले में सशस्त्र हमलावरों ने चार लोगों की हत्या कर दी और 14 अन्य घायल हो गए।


मणिपुर के आयुक्त (गृह) टी. रंजीत सिंह ने एक अधिसूचना में कहा कि मौजूदा कानून-व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार ने नौ जिलों के बीच 2 किमी के दायरे में दूसरे जिलों के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाओं का निलंबन 15 दिन जारी रखने का फैसला किया है। लगभग महीनों के बाद मणिपुर सरकार ने 3 दिसंबर को हिंसा प्रभावित राज्य के बड़े हिस्से में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर प्रतिबंध हटा दिया था। हालांकि, उपरोक्त नौ जिलों के सीमावर्ती क्षेत्रों में प्रतिबंध जारी रहा।

पिछले साल 3 मई को गैर-आदिवासी मैतेई और आदिवासी कुकी-ज़ो समुदायों के बीच जातीय हिंसा भड़कने के बाद लगभग आठ महीने पहले मणिपुर में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर पहली बार प्रतिबंध लगाया गया था। तब से हर पांच दिन बाद प्रतिबंध बढ़ाया जाता रहा है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;