बीजेपी के गुजरात मॉडल की निकली हवा, सरकारी नौकरियों में 5 साल में 85 फीसदी गिरावट

पीएम मोदी के गृह राज्य गुजरात में बीजेपी सरकार द्वारा सरकारी नौकरियां देने में लगातार गिरावट जारी है। गुजरात सरकार द्वारा विधानसभा में दिए जवाब के अनुसार फरवरी 2017 से सितंबर 2018 के बीच सिर्फ 3,584 नौकरियां ही दी गई हैं।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

गुजरात सरकार द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार, राज्य में 2013-14 से 2017-18 के बीच सिर्फ 57,920 सरकारी नौकरियां दी गईं। सबसे अहम ये कि फरवरी 2017 से सितंबर 2018 के बीच सिर्फ 3,584 सरकारी पदों पर लोगों को नौकरियां दी गईं। सरकार के अनुसार, अक्टूबर 2013 से सितंबर 2014 के बीच एक साल के वक्त में राज्य में 25,566 सरकारी भर्तियां हुईं। लेकिन उसके बाद गुजरात सरकार के नौकरी देने के मामले में लगातार गिरावट जारी है।

बीजेपी के ‘गुजरात मॉडल’ की हवा उसी की राज्य सरकार के एक जवाब से निकल गई है। दरअसल गुजरात सरकार द्वारा सरकारी नौकरियां देने के मामले में बीते 5 सालों में 85 फीसदी की गिरावट आई है। ये जानकारी खुद गुजरात सरकार के एक मंत्री ने राज्य विधानसभा में पूछे गए एक सवाल के जवाब में आंकड़े पेश कर दिए हैं।

गुजरात सरकार द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार, राज्य में 2013-14 से 2017-18 के बीच सिर्फ 57,920 सरकारी नौकरियां दी गईं। सबसे अहम ये कि फरवरी 2017 से सितंबर 2018 के बीच सिर्फ 3,584 सरकारी पदों पर लोगों को नौकरियां दी गईं। सरकार के अनुसार, अक्टूबर 2013 से सितंबर 2014 के बीच एक साल के वक्त में राज्य में 25,566 सरकारी भर्तियां हुईं। लेकिन उसके बाद गुजरात सरकार के नौकरी देने के मामले में लगातार गिरावट जारी है।

दरअसल कांग्रेस विधायक सोमाभाई कोली पटेल ने विधानसभा में सवाल पूछा था कि सरकार ने राज्य में सरकारी और निजी क्षेत्र में कितनी नौकरियां मुहैया कराई हैं? इसी के जवाब में गुजरात की बीजेपी सरकार में रोजगार मंत्री दिलीप कुमार ठाकोर ने नौकरियों के आंकड़े पेश किए। रोजगार मंत्री के जवाब के अनुसार, “बीते 5 साल में राज्य के 57,920 लोगों को सरकारी नौकरियां दी गईं। इस दौरान राज्य में कुल 17,52,890 नौकरियां दी गईं, ऐसे में सरकारी नौकरियों का प्रतिशत केवल 3.3% रहा।

गौरतलब है कि हाल ही में गुजरात की बीजेपी सरकार ने विधानसभा में संशोधित बजट पेश किया था। इस दौरान अपने बजट भाषण में डिप्टी सीएम नितिन पटेल ने कहा था कि बीते 5 साल के दौरान राज्य में 1,18,478 नौकरियां दी गईं और अगले 3 साल में 60,000 और लोगों को नौकरियां देने की योजना है। लेकिन अब खुद उन्हीं की सरकार के आंकड़ों ने उनके दावों की हवा निकाल दी है। हालांकि बीजेपी के लिए राहत की बात ये है कि राज्य में प्राइवेट नौकरियों में 32% का उछाल आया है।

लोकप्रिय