गुजरातः सूरत के आवासीय स्कूल में जादू-टोना से इलाज, सवाल उठने पर सरकार ने जांच के आदेश दिए

मामले का खुलासा होने पर तर्कवादी समूह ने इस पूरी घटना की जांच की मांग की है। विज्ञान जत्था समूह के नेता जयंत पंड्या ने मांग की है कि सरकार को आवासीय विद्यालय के वार्डन और ट्रस्टियों के खिलाफ आपराधिक शिकायत भी दर्ज करनी चाहिए।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

एक बेहद चौंकाने वाली घटना में गुजरात के सूरत में सरकारी आवासीय विद्यालय में एक बीमार छात्रा के इलाज के लिए जादू-टोना का सहारा लेने का मामला सामने आया है। घटना की खबर फैलते ही विवाद बढ़ने पर राज्य सरकार ने आदिवासी विकास आयुक्त को मामले की जांच करने का निर्देश दिया है।

सूत्रों के अनुसार सूरत के मढ़ी गांव में आदिवासी लड़कियों के व्यावसायिक प्रशिक्षण आवासीय विद्यालय के वात्सल्य कन्या आश्रम शाला की एक छात्रा बीमार पड़ गई थी, लेकिन उसे डॉक्टर के पास ले जाने के बजाय छात्रावास वार्डन ने तांत्रिक को बुलाया जिसने संस्था की सभी 140 लड़कियों पर जादू टोना किया।


इस बात का खुलासा होने पर मामले ने तूल पकड़ लिया और सरकार पर चौतरफा सवाल उठने लगे। तर्कवादी समूह ने इस पूरी घटना की जांच की मांग की है। विज्ञान जत्था समूह के नेता जयंत पंड्या ने मांग की है कि सरकार को आवासीय विद्यालय के वार्डन और ट्रस्टियों के खिलाफ आपराधिक शिकायत भी दर्ज करवाली चाहिए।

वहीं इस मामले पर आदिवासी विकास की प्रभारी सहायक आयुक्त अनीता नयाल ने कहा कि मुझे जादू टोने की घटना के बारे में पता चला और मैं स्कूल पहुंची, जहां छात्र और शिक्षक दावा कर रहे हैं कि उन्होंने महाशिवरात्रि के अवसर पर लाल धागा बांधा है। घटना में एक विस्तृत जांच की जाएगी और रिपोर्ट आदिवासी आयुक्त को सौंपी जाएगी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;