दंगाइयों और उपद्रवियों के खिलाफ होगी कठोर कार्रवाई, हल्द्वानी हिंसा पर बोले मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हल्द्वानी के बनभूलपुरा में हुई घटना के संबंध में शासकीय आवास पर अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय बैठक कर वर्तमान स्थिति की समीक्षा की।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तराखंड के नैनीताल जिले के हल्द्वानी शहर में फैली हिंसा को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का बयान सामने आया है। उन्होंने ट्वीट में कहा है कि एक-एक दंगाइयों की पहचान की जा रही है और उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। बता दें कि गुरुवार की शाम को हुई हिंसा में कई लोगों की मौत हो गई और वहीं 250 से अधिक लोग घायल हो गए। अब शहर में तनाव का माहौल है, जिसके चलते कर्फ्यू लगाया गया है।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हल्द्वानी के बनभूलपुरा में हुई घटना के संबंध में शासकीय आवास पर अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय बैठक कर वर्तमान स्थिति की समीक्षा की।

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार की सुबह ट्वीट करते हुए लिखा, ‘दंगाइयों और उपद्रवियों के विरुद्ध करेंगे कठोरतम कार्रवाई हल्द्वानी के बनभूलपुरा में हुई घटना के संबंध में शासकीय आवास पर अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय बैठक कर वर्तमान स्थिति की समीक्षा की। पुलिस को अराजक तत्वों से सख़्ती से निपटने के स्पष्ट निर्देश दिए हैं। आगजनी पथराव करने वाले एक-एक दंगाई की पहचान की जा रही है, सौहार्द और शांति बिगाड़ने वाले किसी भी उपद्रवी को बख्शा नहीं जायेगा। हल्द्वानी की सम्मानित जनता से अनुरोध है कि शांति व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस-प्रशासन का सहयोग करें।’

हल्द्वानी में क्या हुआ था?

आपको बता दें, उत्तराखंड के हल्द्वानी के बनभूलपुरा थाना क्षेत्र के मालिक के बगीचे में बनी अवैध मस्जिद और मदरसे को तोड़ने के बाद इलाके में तनाव फैल गया है। आक्रोशित लोगों ने कई वाहनों में आगजनी की घटना के साथ ही जेसीबी को भी तोड़ दिया है। आक्रोशित भीड़ ने कई पुलिसकर्मियों और मीडियाकर्मियों पर पथराव कर दिया।

अब कैसे हैं हालात?

हलद्वानी के बनभूलपुरा में हिंसा के बाद इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं। नैनीताल जिला प्रशासन ने सभी स्कूल-कॉलेजों को भी बंद करने का आदेश दिया है। लोगों को घर के अंदर रहने की हिदायत दी गयी है। शहर में अस्पताल और दवा की दुकानों को छोड़कर बाकी सब बंद रखने का आदेश दिया गया है। स्कूल-ऑफिस और बाजार सबकुछ पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। शहर में पेट्रोल पंप तक बंद हैं। हालात को संभालने के लिए आसपास के जिलों से फोर्स बुलाई गई है तो सेंट्रल फोर्स की भी तैनाती की गई है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;