'हनुमान चालीसा बनाम अजान': अजान के समय 1,000 से अधिक मंदिरों में हनुमान चालीसा पढ़ी गई, हाई अलर्ट पर पुलिस

पुलिस ने उन कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है जो बेंगलुरु के एक मंदिर में हनुमान चालीसा का जाप शुरू करने के लिए तैयार थे। पूरे राज्य में सुरक्षा बढ़ा दी गई है क्योंकि इस मुद्दे पर सांप्रदायिक झड़पें हो सकती हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

हिंदू कार्यकर्ताओं ने सोमवार को राज्य भर में अजान के खिलाफ हनुमान चालीसा पढ़ने का अभियान शुरू किया है, जिसके बाद कर्नाटक पुलिस हाई अलर्ट पर है।

श्री राम सेना के संस्थापक प्रमोद मुतालिक ने सुबह 5 बजे मैसूर जिले के एक मंदिर में कार्यक्रम का उद्घाटन किया। उन्होंने दावा किया कि मस्जिदों में अजान के खिलाफ 1,000 से अधिक मंदिरों में हनुमान चालीसा पढ़ी गई।

पुलिस ने उन कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है जो बेंगलुरु के एक मंदिर में हनुमान चालीसा का जाप शुरू करने के लिए तैयार थे। पूरे राज्य में सुरक्षा बढ़ा दी गई है क्योंकि इस मुद्दे पर सांप्रदायिक झड़पें हो सकती हैं।

मुथालिक ने घोषणा की है कि कार्यकर्ता आने वाले दिनों में मंदिरों में प्रार्थना अभियान तेज करेंगे। उन्होंने अजान के खिलाफ कार्रवाई करने में सरकार की लाचारी पर सवाल उठाया था, जो संविधान और कानून के खिलाफ है।


उन्होंने दावा किया कि मरीजों, छात्र सुबह की अजान से परेशान हैं।

कार्यकर्ताओं ने भक्ति प्रार्थना शुरू की और 'जय श्री राम', 'जय हनुमान' और 'भारत माता की जय' के नारे लगाए। उन्होंने राज्य भर में सुबह 5 बजे अपनी प्रार्थना शुरू की और सुबह 6 बजे पूरी की।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia