हरियाणाः महंगाई के खिलाफ कांग्रेस का हल्ला बोल, भूपेंद्र हुड्डा प्रदर्शन करते हुए ट्रैक्टर से विधानसभा पहुंचे

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि बीजेपी सरकार में रोज-रोज बढ़ते दामों से आम आदमी त्रस्त हो चुका है। महंगाई ने हर परिवार की रसोई का बजट बिगाड़ कर रख दिया है। ऐसे में जरूरी है कि कोरोना महामारी, आर्थिक मंदी और महंगाई की मार झेल रही जनता को सरकार फौरन राहत दे।

फोटोः @BhupinderSHooda
फोटोः @BhupinderSHooda
user

धीरेन्द्र अवस्थी

हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र के दूसरे दिन सोमवार को कांग्रेस विधायकों ने बढ़ती महंगाई के खिलाफ हल्ला बोला। पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में कांग्रेस विधायकों ने महंगाई के खिलाफ नारेबाजी करते हुए विधानसभा तक मार्च किया। हुड्डा ट्रैक्टर पर सवार होकर विरोध प्रदर्शन करते हुए विधानसभा पहुंचे।

आसमान छूती डीजल की कीमतों का सांकेतिक तौर पर विरोध करते हुए ट्रैक्टर को स्टार्ट कर लाने की बजाए विधायकों ने उसे रस्से से खींचा। नेता प्रतिपक्ष ट्रैक्टर की ड्राइविंग सीट पर बैठे थे और कांग्रेस विधायक ट्रैक्टर को खींच रहे थे। सभी विधायकों ने रसोई गैस के बढ़ते दामों, पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों और कमरतोड़ महंगाई को लेकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

फोटोः धीरेंद्र अवस्थी
फोटोः धीरेंद्र अवस्थी

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि बीजेपी सरकार की नीतियों के चलते आज आम आदमी पर महंगाई की चौतरफा मार पड़ रही है। एक तरफ आर्थिक मंदी के चलते आमदनी घट रही है, तो दूसरी तरफ महंगाई के चलते खर्चे बढ़ रहे हैं। हुड्डा ने बताया कि कांग्रेस सरकार के दौरान डीजल पर हरियाणा में वैट की दर 9.24% थी, जो बीजेपी-जेजेपी सरकार में बढ़कर दोगुनी हो चुकी है। कांग्रेस सरकार के दौरान हरियाणा में पेट्रोल-डीजल के दाम देश भर में सबसे सस्ते थे। लेकिन आज पड़ोसी राज्यों से भी महंगा डीजल हरियाणा में बिक रहा है। ऐसे में प्रदेश सरकार को वैट दर कम करके जनता को राहत देनी चाहिए।

पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष ने बताया कि कांग्रेस सरकार के दौरान जब गैस सिलेंडर की कीमत महज 347 रुपये थी, उस वक्त बीजेपी नेता सिलेंडर उठाकर प्रदर्शन करते थे। लेकिन आज सिलेंडर की कीमत 850 रुपये होने पर उन्हीं नेताओं की जुबान पर ताले लग गए हैं। पेट्रोल-डीजल का रेट बढ़ने से अन्य चीजों के दाम पर भी असर पड़ रहा है। डीजल का दाम बढ़ने से सबसे ज्यादा नुकसान किसानों को हो रहा है। इससे खेती की लागत बढ़ गई है। ट्रांसपोर्ट का खर्च बढ़ने से उपभोग की हर वस्तु महंगी होती जा रही है।

फोटोः धीरेंद्र अवस्थी
फोटोः धीरेंद्र अवस्थी

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि देश में रोज-रोज बढ़ते दामों से आम आदमी त्रस्त हो चुका है। महंगाई ने हर परिवार की रसोई का बजट बिगड़ दिया है। ऐसे में जरूरी है कि कोरोना महामारी, आर्थिक मंदी और महंगाई की मार झेल रही जनता को सरकार राहत दे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia