हरियाणा: समर्थन के लिए दुष्यंत की शर्त, हुड्डा बोले- हमारे मेनिफेस्टो में पहले से है युवाओं के लिए 75% आरक्षण

जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला के साझा न्यूनतम कार्यक्रम वाली पार्टी को समर्थन देने वाले बयान पर कांग्रेस नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा है कि साझा न्यूनतम कार्यक्रम से हमें कोई दिक्कत नहीं। उसके लिए तैयार हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

हरियाणा में हुए विधानसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करने वाली जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के प्रमुख दुष्यंत चौटाला ने प्रेस कांफ्रेंस की। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के अंदर लोगों ने कांग्रेस या बीजेपी के साथ जाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि जो पार्टी हमारे कॉमन मिनिमम प्रोग्राम की बात मानेगा, हमारी पार्टी उसी के साथ जाएगी और समर्थन देगी।

उन्होंने आगे कहा, “प्रदेश के अंदर 75% हरियाणवी रोजगार अधिकार, वृद्धावस्था पेंशन इन विषयों पर जो भी पॉलिटिकल दल सहमत होगा जनननायक जनता पार्टी पूरी तरह से मिलकर सरकार बनाने का प्रयास करेगी।”

दुष्यंत चौटाल ने प्रेस कांफ्रेंस से पहले तिहाड़ जेल में अपने पिता से मुलाकात की। उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस में बीजेपी-कांग्रेस को समर्थन देने पर खुले तौर पर कुछ नहीं कहा, लेकिन संकेत दे दिए कि उनके दरवाजे सबके लिए खुले हैं।

दुष्यंत चौटाला ने आगे कहा, “हम किसी मजबूत और स्थिर पक्ष के साथ जाएंगे। हम किसी को भी समर्थन दे सकते हैं। अन्य पार्टियों से बातचीत अभी करनी है।”

वहीं जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला के साझा न्यूनतम कार्यक्रम वाली पार्टी को समर्थन देने वाले बयान पर कांग्रेस नेता भूपिंदर हुड्डा ने कहा है कि साझा न्यूनतम कार्यक्रम से हमें कोई दिक्कत नहीं। उसके लिए तैयार हैं।

उन्‍होंने आगे कहा कि दुष्‍यंत बाते जो कह रहे हैं वह हमारे घोषणापत्र में भी शामिल हैं। इसके बाद भी उनकी अन्‍य बातें हैं तो उस पर भी विचार करने को तैयार हैं।

बता दें कि हरियाणा विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने ‘अबकी बार 75 पार’ नारा दिया था, लेकिन बीजेपी अपने दिए गए लक्ष्य से कोसो दूर रही है और जनता ने उनवके वादों को नाकार दिया। 90 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा 46 है और बीजेपी को 40 सीटों पर जीत मिली है। बीजेपी को कई सीटों पर नुकसान उठाना पड़ा है।

वहीं कांग्रेस इस विधानसभा चुनाव में 16 सीटों का फायदा हुआ है। कांग्रेस ने 31 सीटों पर जीत दर्ज की है। पिछले चुनाव में कांग्रेस 15 सीटों पर जीत मिली थी। वहीं जेजेपी को 10, इनेलो 1 और अन्य को 8 सीटों पर जीत हासिल हुई है।

लोकप्रिय
next