क्या सौरव गांगुली ने बीजेपी को दिखा दिया ठेंगा? पार्टी के बंगाल प्रमुख के ताजा बयान से मिले संकेत

पश्चिम बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में कहा है कि सौरव गांगुली को लेकर मीडिया में जो खबरें बनाई जा रही हैं, उनमें कोई दम नहीं है। दिलीप घोष के इसी बयान के बाद चर्चा है कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान ने बीजेपी को ना कह दिया है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद राज्य में जारी चुनावी हलचल के बीच बीजेपी को बड़ा झटका लगता दिख रहा है। चर्चा है कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को पार्टी में लाने की बीजेपी की सारी कोशिशें धरी की धरी रह गई हैं और गांगुली बीजेपी में नहीं शामिल होने जा रहे हैं। इस बात के संकेत बंगाल बीजेपी प्रमुख दिलीप घोष के ताजा बयान से मिले हैं।

‘आज तक’ की खबर के अनुसार बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने खास बातचीत में गांगुली के बारे में बोलते हुए कहा है कि ''सौरव गांगुली को लेकर जो खबरें बनाई जा रही हैं, उनमें कहीं कोई दम नहीं है। सौरव गांगुली ने अभी तक कुछ नहीं कहा है और बीजेपी ने भी कुछ नहीं कहा है।'' घोष ने आगे कहा कि अगर वे आते हैं तो अच्छा है। पार्टी में जो भी शामिल होगा, हम उनका स्वागत करेंगे। लेकिन अभी तक उनसे कोई बातचीत नहीं हुई है।

दरअसल पश्चिम बंगाल के इस चुनाव में बीजेपी ममता बनर्जी को हटाकर बंगाल की सत्ता पर काबिज होने के लिए सारे जतन कर रही है। लेकिन उसकी सबसे बड़ी समस्या उसके पास ममता बनर्जी के मुकाबले में किसी बड़े चेहरा का नहीं होना है। ऐसे में पिछले कुछ दिनों से दिल्ली की मीडिया में चर्चा थी कि बीसीसीआई प्रमुख सौरव गांगुली बीजेपी में शामिल हो सकते हैं और बीजेपी बंगाल में गांगुली को ही ममता के सामने अपना चेहरा बनाएगी।

लेकिन पश्चिम बंगाल बीजेपी प्रमुख दिलीप घोष के ताजा बयान से ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि सौरव गांगुली ने शायद बीजेपी का ना कह दिया है। अगर वास्तव में ऐसा हुआ है तो ये चुनाव से ठीक पहले बीजेपी के लिए बड़ा झटका माना जाएगा। क्योंकि ममता से मुकाबले के लिए एक अदद बड़े चेहरे के लिए तरस रही बीजेपी की गांगुली के इनकार के बाद और भी ज्यादा फजीहत हो सकती है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय