बारिश से उत्तर भारत बेहाल, दिल्ली में टूटा 15 साल का रिकॉर्ड, यूपी में 25 की मौत

बेमौसमी बारिश ने पूरे उत्तर भारत में कहर सा ढा दिया है। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान और मध्य प्रदेश के कई इलाकों में बारिश के कारण जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

बेमौसमी बारिश ने पूरे उत्तर भारत में कहर सा ढा दिया है। कई दिनों से चल रही बारिश किसानों पर आफत बनकर बरसी है। खेतों में खड़ी धान और सब्जी की फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान और मध्य प्रदेश के कई इलाकों में बारिश के कारण जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। लगातार चार दिनों से हो रही बारिश से अभी राहत नहीं मिलने वाली है क्योंकि मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों के लिए फिर से अलर्ट जारी कर दिया है। मौसम विभाग ने  बारिश को लेकर उत्तर प्रदेश, बिहार और महाराष्ट्र समेत 23 राज्यों में यलो अलर्ट जारी किया है। उत्तर प्रदेश के तो 45 जिलों में तेज बारिश की चेतावनी है। 

दिल्ली में टूटा 15 साल का रिकॉर्ड

राष्ट्रीय राजधानी में रविवार को भी लगातार बरसात देखी गई है। शनिवार से ही हो रही बारिश ने दिल्ली के लोगों को थोड़ी दिक्कतों में भी डाला है। वहीं मौसम विभाग की मानें तो 2007 के बाद पिछले 24 घंटे के भीतर ये दूसरी सबसे ज्यादा बारिश रिकॉर्ड हुई है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 2007 के बाद 24 घंटे में सबसे ज्यादा बारिश दर्ज की गई है। रविवार को मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार, शहर में रविवार सुबह 8.30 बजे तक 74 मिमी की लगातार बारिश दर्ज की गई है। ये 2007 के बाद से इस अवधि की दूसरी सबसे ज्यादा बारिश है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

यूपी में 25 की मौत, कई जिलों में स्कूल बंद

वहीं रविवार देर रात तक पूरे उत्तर प्रदेश में बारिश से संबंधित अलग-अलग घटनाओं में 25 लोगों की मौत हो गई है। सबसे ज्यादा मौतें मकान ढहने के मामलों में हुई हैं। पिछले 48 घंटों के दौरान लगातार बारिश के बाद राज्य की सभी प्रमुख नदियों में जल स्तर बढ़ रहा है।

राज्य के मौसम विभाग ने राज्य के पूर्वी, मध्य भागों, बुंदेलखंड, तराई बेल्ट और रोहिलखंड क्षेत्रों में सोमवार को मध्यम से भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। लखनऊ, नोएडा, गाजियाबाद, कानपुर, रामपुर और मेरठ के जिलाधिकारियों ने सोमवार को 12वीं कक्षा तक के सभी स्कूलों को बंद करने का फैसला किया।

जबकि आगरा और अलीगढ़ प्रशासन ने सोमवार और मंगलवार को स्कूलों की छुट्टी घोषित कर दी है। गोरखपुर के बरहालगंज में एक नाव के पलट जाने से दो लोग बह गए, वहीं बलरामपुर जिले के करीब 400 गांवों में पानी भर गया है।

लखनऊ नगर निगम ने लोगों से सतर्क रहने को कहा है और लोगों को भीड़-भाड़ वाली जगहों और जीर्ण-शीर्ण इमारतों से बचने की सलाह दी है। कई जिलों ने वर्षा संबंधी समस्याओं से प्रभावित लोगों के लिए हेल्पलाइन खोल दी है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

बिहार में अगले 48 घंटों में इन जिलों में तेज बारिश का अलर्ट

बिहार में 19 जिलों में अगले 48 घंटों के दौरान तेज बारिश की संभावना जताई गई है। इन जिलों में पटना, मुजफ्फरपुर, पश्चिमी चंपारण एवं पूर्वी चंपारण, सुपौल, मधेपुरा, पूर्णिया, कटिहार, अररिया, सहरसा, किशनगंज, सिवान, वैशाली, शिवहर, सीतामढ़ी, समस्तीपुर, दरभंगा, मधुबनी शामिल हैं।


तमिलनाडु में 11 अक्टूबर तक होगी भारी बारिश : आईएमडी

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने 11 अक्टूबर तक तमिलनाडु के कई हिस्सों में भारी बारिश की भविष्यवाणी की है। आईएमडी की रिपोर्ट के अनुसार, नीलगिरी जिले में रविवार को भारी बारिश हो रही है। तमिलनाडु के धर्मपुरी, कृष्णागिरी, तिरुवन्नामलाई, कुड्डालोर, कल्लाकुरिची, नमक्कल, कोयंबटूर, तंजावुर, तिरुवरूर, मायलादुथुराई, तिरुपत्तूर, रानीपेट, वेल्लोर, इरोड, नमक्कल और करूर जिलों में भारी बारिश होगी। अगले कुछ दिनों में पुडुचेरी के कराईक्कल में भी भारी बारिश का अनुमान है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;