बिहार में भारी बारिश और बाढ़ से हाहाकार, 24 घंटे के अंदर 43 लोगों की मौत, ये जिले अब राम भरोसे!

बिहार के 12 जिलों में आई बाढ़ से अब तक 123 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 81 लाख 57 हजार 700 आबादी प्रभावित हुई है। बीते 24 घंटे के अंदर राज्‍य में 43 लोगों की आकाशीय बिजली की चपेट में आकर मौत हो गई।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

बिहार में भारी बारिश और बाढ़ का कहर जारी है। बाढ़ से 12 जिलों में बुरी तरह प्रभावित हो गई है। इसकी चपेट में आने से मरने वालों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। बीते 24 घंटे के अंदर राज्‍य में 43 लोगों की आकाशीय बिजली की चपेट में आकर मौत हो गई। मरने वालों में अधिकांश किसान हैं जो अपने खेतों में काम कर रहे थे। वहीं बिहार आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक, इस आपदा में अब तक कुल 123 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे बिहार के लिए भारी बताया है।

बिहार में भारी बारिश और बाढ़ से हाहाकार, 24 घंटे के अंदर 43 लोगों की मौत, ये जिले अब राम भरोसे!

आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक, बिहार के कुल 12 जिले बाढ़ से प्रभावित हैं, जिसमें अररिया, किशनगंज, शिवहर, सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, सुपौल, मधुबनी, दरभंगा, कटिहार, पूर्वी चंपारण, पश्चिम चंपारण और मुजफ्फरपुर शामिल है। एनडीआरएफ-एसडीआरएफ की 26 टीमें राहत और बचाव का काम कर रही हैं। 796 कर्मी राहत बचाव में लगे हैं. बाढ़ प्रभावित इलाकों में 125 मोटरबोट चलाए जा रहे हैं।

बिहार में भारी बारिश और बाढ़ से हाहाकार, 24 घंटे के अंदर 43 लोगों की मौत, ये जिले अब राम भरोसे!

केंद्रीय जल आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक, बिहार की कई नदियां बूढ़ी गंडक, बागमती, अधवारा समूह, कमला बलान, कोसी, महानंदा और परमान नदी विभिन्न स्थानों पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही थी।

बिहार में भारी बारिश और बाढ़ से हाहाकार, 24 घंटे के अंदर 43 लोगों की मौत, ये जिले अब राम भरोसे!

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जल संसाधन मंत्री संजय झा लगातार स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं और लगातार मुस्तैदी से राहत और बचाव कार्य चलाने का दावा कर रहे हैं। वहीं विपक्ष बारिश और बाढ़ के चलते हुई मौतों के लिए नीतीश सरकार को जिम्मेदार ठहरा रही है। उनका कहना है कि नीतीश सरकार सही से अपना काम नहीं कर रही है।

बिहार में भारी बारिश और बाढ़ से हाहाकार, 24 घंटे के अंदर 43 लोगों की मौत, ये जिले अब राम भरोसे!

आरजेडी का आरोप है कि 14 सालों में भी नीतीश कुमार इस समस्या से निजात नहीं दिला पाए। बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत नहीं मिलने का भी आरोप लगाया है। बीते दिनों राबड़ी देवी ने सरकार पर कई आरोप लगाते हुए कहा था कि बाढ़ से तटबंध प्रभावित हुए हैं। लोगों को काफी परेशानी हो रही है, लेकिन नीतीश सरकार कोई व्यवस्था नहीं कर रही है।

Published: 25 Jul 2019, 11:04 AM
लोकप्रिय