आंध्र प्रदेश के नेल्लोर जिले में भारी बारिश, चेन्नई-विजयवाड़ा रूट पर ट्रेन सेवाएं प्रभावित

आंध्र प्रदेश के नेल्लोर जिले में भारी बारिश और बाढ़ से रेलवे ट्रैक क्षतिग्रस्त हो गए हैं, जिससे सोमवार को चेन्नई-विजयवाड़ा ग्रैंड ट्रंक रूट पर ट्रेन सेवाएं प्रभावित रहीं। लगातार दूसरे दिन रेलवे अधिकारियों ने कई ट्रेनों को रद्द करने की घोषणा की।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

आंध्र प्रदेश के नेल्लोर जिले में भारी बारिश और बाढ़ से रेलवे ट्रैक क्षतिग्रस्त हो गए हैं, जिससे सोमवार को चेन्नई-विजयवाड़ा ग्रैंड ट्रंक रूट पर ट्रेन सेवाएं प्रभावित रहीं। लगातार दूसरे दिन रेलवे अधिकारियों ने कई ट्रेनों को रद्द करने की घोषणा की। दक्षिण मध्य रेलवे के अनुसार, विजयवाड़ा मंडल के पादुगुपाडु-नेल्लोर खंड के बीच पानी भरने के कारण 13 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है।

रद्द की गई ट्रेनों में विजयवाड़ा-चेन्नई सेंट्रल, विजयवाड़ा-गुडूर, गुडूर-विजयवाड़ा, बिलासपुर-एनार्कुलम, चामराजनगर-मैसूर, कोल्हापुर एससीएसएमटी-तिरुपति, यशवंतपुर-हावड़ा, केएसआर बेंगलुरु-काकीनाडा टाउन, यशवंतपुर-पाटलिपुत्र, चेन्नई सेंट्रल- तिरुपति और तिरुपति- चेन्नई सेंट्रल शामिल हैं। इस बीच ट्रैक पर पानी का बहाव कम होने के कारण गुडूर-विजयवाड़ा के बीच डाउन लाइन को यातायात के लिए बहाल कर दिया गया है।


11 ट्रेनें, जो पहले डायवर्ट की गई थीं, अब सामान्य रूट पर चलेंगी। इनमें से कुछ ट्रेनों की यात्रा 19 नवंबर को शुरू हुई थी। जो ट्रेनें सामान्य रूट पर चलेंगी उनमें भुवनेश्वर-बेंगलुरु कैंट, न्यू तिनसुकिया-बेंगलुरु, जयपुर-चेन्नई सेंट्रल, नई दिल्ली-तिरुवनंतपुरम और एच. निजामुद्दीन-चेन्नई सेंट्रल शामिल हैं।

रविवार को 40 से अधिक ट्रेनों को रद्द कर दिया गया था क्योंकि रेलवे ट्रैक क्षतिग्रस्त हो गया था या बाढ़ के पानी में डूब गया था। रेलवे अधिकारियों ने क्षतिग्रस्त ट्रैक की मरम्मत का काम शुरू कर दिया है।


सभी प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर विशेष हेल्प लाइन खोली गई हैं। सैकड़ों यात्रियों के फंसे होने के कारण, अधिकारियों ने गैर सरकारी संगठनों की मदद से कवाली, चिराला और ओंगोल स्टेशनों पर उनके लिए भोजन और पीने के पानी की व्यवस्था की है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia