हेमंत सोरेन ने ED के नौवें समन का भेजा जवाब, कहा- मार्च अंत तक व्यस्त, पूछताछ के लिए उपलब्ध नहीं हो पाऊंगा

रांची के बड़गांई अंचल में कथित जमीन घोटाले से जुड़े मामले की जांच कर रही ईडी ने सीएम हेमंत सोरेन को भेजे समन में उनसे 27 से लेकर 31 जनवरी तक की कोई तारीख अपनी सहूलियत के अनुसार तय करने को कहा था।

हेमंत सोरेन ने ED के नौवें समन का भेजा जवाब
हेमंत सोरेन ने ED के नौवें समन का भेजा जवाब
user

नवजीवन डेस्क

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने गुरुवार को ईडी के नौवें समन पर लिखित जवाब भेजा है। सूत्रों के मुताबिक, सीएम हेमंत सोरेन ने एजेंसी को कहा है कि आगामी 31 मार्च तक उनकी व्यस्तता है और इस वजह से वे पूछताछ के लिए उपलब्ध नहीं हो पाएंगे। रांची के बड़गांई अंचल में जमीन घोटाले से जुड़े मामले की जांच कर रहे ईडी ने सीएम को भेजे समन में उनसे 27 से लेकर 31 जनवरी तक की कोई तारीख अपनी सहूलियत के अनुसार तय करने को कहा था।

गुरुवार दोपहर करीब ढाई बजे सीएम हेमंत सोरेन ने अपने कार्यालय के मैसेंजर के जरिए ईडी के एयरपोर्ट रोड स्थित दफ्तर को अपनी चिट्ठी सीलबंद लिफाफे में भिजवाई। सूत्रों के मुताबिक, उन्होंने चिट्ठी में विधानसभा के आगामी बजट सत्र सहित अन्य आवश्यक कार्यों में व्यस्तता का हवाला दिया है और फिलहाल पूछताछ के लिए समय देने में असमर्थता जताई है। उन्होंने स्पष्ट तौर पर बता दिया है कि आगामी 31 मार्च तक उनकी व्यस्तता है और इस वजह से वे पूछताछ के लिए उपलब्ध नहीं हो पाएंगे।


गौरतलब है कि ईडी ने सीएम सोरेन से 20 जनवरी को करीब सात घंटे तक उनके आवास पर पूछताछ की थी। एजेंसी जांच आगे बढ़ाते हुए उनसे एक बार और पूछताछ करना चाहती है। जमीन घोटाले के इस मामले में ईडी अब तक आईएएस छवि रंजन सहित करीब डेढ़ दर्जन लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

20 जनवरी को हुई पूछताछ के बाद सीएम सोरेन ने अपने आवास के बाहर जमा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा था कि मैंने कोई चोरी नहीं की है। हमने उनके सभी सवालों के जवाब दिए हैं। आगे जो भी परीक्षा देनी पड़े, उसके लिए हम तैयार हैं। हमने झारखंड लड़कर लिया है। हम झारखंड को इन भ्रष्टाचारियों के हाथ में कभी जाने नहीं देंगे। सरकार बहुत मुश्किल से बनी है। सरकार बनने के बाद से ही हमारे खिलाफ षड्यंत्र चल रहा है। राज्य के विकास के साथ हमने इन षड्यंत्रों को नाकाम किया है। इनके पर को कुतर कर ही हम आगे बढ़ रहे हैं। अब उनके ताबूत में हम आखिरी कील ठोंकेंगे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;