कोरोना महामारी के साथ मॉनसून में दूसरी बीमारियों का भी कहर! डॉक्टर से जानें खुद को कैसे रखें सुरक्षित और फिट

मॉनसून में कोरोना महामारी के साथ मौसमी बीमारियों से खुद को कैसे सुरक्षित और फिट रखा जाए, यह समझना और जानना बेहद जरूरी है। इन सभी मुद्दों पर हमने गोरखपुर के स्पदंन हास्पिटल के डॉक्टर उपेंद्र सिंह से खास बात की।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

विनय कुमार

पूरा देश कोरोना महामारी से हलकान है। इस बीच मौसमी बीमारियों ने कहर बरपना शुरू कर दिया है। ऐसे में महामारी के साथ इन बीमारियों से खुद को बचाना भी एक बड़ी चुनौती है। मॉनसून में कोरोना महामारी के साथ मौसमी बीमारियों से खुद को कैसे सुरक्षित और फिट रखा जाए, यह समझना और जानना बेहद जरूरी है। इन सभी मुद्दों पर हमने गोरखपुर के स्पदंन हास्पिटल के डॉक्टर उपेंद्र सिंह से खास बातचीत की।

सवाल- पूरा देश कोरोना महामारी की चपेट में है, मौसमी बीमारियों ने भी कहर बरपना शुरू कर दिया है। महामारी के बीच मौसमी बीमारियों से खुद को कैसे सुरक्षित रखें?

डॉक्टर- देखिए इस मौसम में कभी बारिश होना और उसके बाद अचानक अगले दिन उमस या गर्मी होना बीमारियों को न्योता देता है। ऐसे में मौसम बीमारी फैलाने वाले बैकटेरिया में इजाफा होता है। अपने को साफ सुथरा रखें। खाने से पहले हाथ को अच्छे से धोएं। वैसे भी कोरोना काल चल रहा है तो हाथों को धोते रहें। मॉनसून के मौसम में खुले फल और सब्जियां खरीदने या खाने से एकदम बचें। इस मौसम में पानी को उबाल कर पीएं।

सवाल- बरसात का मौसम है, इस मौसम में कौन सी बीमारी सबसे ज्यादा प्रभावित करती है?

डॉक्टर- बारिश के मौसम में बीमारियां ज्यादा पनपती हैं। ऐसे में मच्छरों से होने वाली बीमारियों में ज्यादा बढ़ोतरी होती है। जैसे डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया। इसके अलावा वारयल फीवर भी काफी देखने को मिलता है। दूषित खाने से पेट से संबंधित कई बीमारियां भी सामने आती हैं। जैसे की डायरिया, अपच, पीलिया यह बीमारियां भी दूषित पानी और भोजन करने से फैलती हैं।


सवाल- महामारी के बीच लोगों को अपने बच्चों की ज्यादा चिंता है। चमकी बुखार और डायरिया का खौफ है। इन बीमारियों से बच्चों को कैसे सुरक्षित रखा जाए?

डॉक्टर- देखिए बदलते मौसम में कई तरह के वायरस सक्रिय होने के कारण बीमार होने की आशंका बढ़ जाती है। ऐसे में खासकर बच्चों को ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है। इसलिए बच्चों को बारिश के मौसम में पानी उबालकर पिलाना चाहिए। साथ ही घर में साफ-सफाई का खास ख्याल रखें। बच्चों को मच्छरों से बचाने के लिए घर और उसके आस-पास गंदगी ना फैलने दें। बारिश के मौसम में फलों और सब्जियों को अच्छे से साफ करके बच्चों को खाने के लिए दें।

इस मौसम में एक और बात ध्यान देनें की जरुरत है। बारिश के मौसम में बच्चों की इम्यूनिटी काफी कमजोर होती है। इसलिए उन पर बीमारियां जल्दी अटैक करती हैं। ऐसे में अगर आपको उनके अंदर मौसमी बीमारी के लक्षण दिखें, तो डॉक्टर की सलाह तुरंत लें।

सवाल- चिकनगुनिया, डेंगू और मलेरिया के मरीज भी इस मौसम में ज्यादा सामने आते हैं। इन तीनों बीमारियों से लोग खुद को बचा सकें, इसे लेकर आप क्या सलाह देंगे?

डॉक्टर- अपने घर के आस-पास गंदगी को नहीं लगने दें। बारिश के मौसम गंदगी में पानी इकठ्ठा हो जाता है और उसे चिकनगुनिया, डेंगू और मलेरिया के मच्छर पनपते हैं। घरों के पास पानी को न जमा होने दें। अगर पानी जमता भी है तो उस पर पेट्रोल या किरोसिन के तल का छिड़काव करें। इससे मच्छर नहीं पनपेंगे। इसके अलावा मच्छदानियों का प्रयोक करें। इस पर ध्यान देकर इन बीमारियों से लोग खुद को लोग बचा सकते हैं।

सवाल- इस मौसम में खुद को कैसे फिट रखा जाए? खान-पान में किन चीजों का ख्याल रखना चाहिए?

डॉक्टर- इस मौसम में शुद्ध और साफ खाना खाएं। दूषित और बाहर के खाने से परहेज करें। बारिश के मौसम में ज्यादा तेल मसाला और बाहर की चीजों को खाने से बचेंगे तो बीमारियां पास नहीं आएंगी। साथ ही खट्टी चीजें, इमली, अचार आदि का सेवन कम करें। इनसे शरीर में पानी की मात्रा की कमी होने की संभावना बढ़ जाती है। पानी को उबाल कर पीएं।


सवाल- अगर हम आपसे पूछें कि महामारी के दौर में वो कौन सी ऐसी 5 बातें हैं, जिनका सभी को ध्यान रखना बेहद जरूरी है, तो आप क्या सलाह देंगे?

डॉक्टर- पहला, शुद्ध खाना और पानी, दूसरा, अपने आस पास में गंदगी ना फैलने दें। तीसरा- पानी को उबाल कर पीए। चौथा, भरपूर नींद लें। पांचवा, घर पर हल्का-फूल्का एक्ससाइज या योगा करें।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;