लखीमपुर हिंसा पर बोलीं प्रियंका गांधी- पीड़ितों को मुआवजा नहीं, न्याय चाहिए, मंत्री को किया जाए बर्खास्त

प्रियंका गांधी ने आगे कहा, ‘’इसके लिए मैं लडूंगी। जबतक ये मंत्री बर्खास्त नहीं होगा और जबतक ये लड़का गिरफ्तार नहीं होगा तबतक मैं बिल्कुल अडिग रहूंगी। क्योंकि मैंने उन परिवारों को वचन दिया है। सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज के अंडर जांच होनी चाहिए। नैतिक आधार पर मंत्री इस्तीफा दें।’’

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

लखीमपुर खीरी की घटना पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा, “अभी तक न्याय नहीं मिला, न्याय कैसे मिलेगा अगर वे गृह राज्यमंत्री रहेंगे। ये सब उनके अंडर आता है न। जबतक वे बर्खास्त नहीं होंगे निष्पक्ष जांच कौन करेगा? तीनों परिवारों ने एक ही बात कही कि मुआवजे से मतलब नहीं है, हमें न्याय चाहिए।”

प्रियंका गांधी ने आगे कहा, ‘’इसके लिए मैं लडूंगी। जबतक ये मंत्री बर्खास्त नहीं होगा और जबतक ये लड़का गिरफ्तार नहीं होगा तबतक मैं बिल्कुल अडिग रहूंगी। क्योंकि मैंने उन परिवारों को वचन दिया है। सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज के अंडर जांच होनी चाहिए। नैतिक आधार पर मंत्री इस्तीफा दें।’’

बता दें कि कल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी ने घटना में मारे गए लोगों के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी। दोनों नेताओं ने दोषियों की गिरफ्तारी की मांग भी की। राहुल और प्रियंका के साथ पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी थे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia