'अग्निपथ' पर मचे बवाल के बावजूद पीछ हटने को तैयार नहीं मोदी सरकार, IAF ने भर्ती के लिए पंजीकरण प्रक्रिया की शुरू

आईएएफ अधिसूचना ने कहा, "आयु समूह 17.5 वर्ष से 21 वर्ष के बीच होना चाहिए। 29 दिसंबर 1999 और 29 जून 2005 (दोनों दिन सम्मिलित) के बीच जन्म लेने वाले उम्मीदवार आवेदन करने के पात्र हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

अग्निपथ योजना पर देश में मचे बवाल के बावजूद केंद्र की मोदी सरकार पीछे हटने को तैयार नहीं है। इस बीच आईएएफ ने अग्निपथ भर्ती योजना के तहत पंजीकरण प्रक्रिया शुरू कर दी है।एक अधिसूचना में, आईएएफ ने इच्छुक उम्मीदवारों को योजना के तहत आवेदन करने के लिए महत्वपूर्ण तिथियां दीं। शुक्रवार (24 जून) से शुरू हुई पंजीकरण प्रक्रिया 5 जुलाई तक चलेगी। ऑनलाइन परीक्षा 24 जुलाई को होगी। उम्मीदवारों का चयन ऑनलाइन टेस्ट, फिजिकल फिटनेस टेस्ट (पीएफटी), एडाप्टेबिलिटी टेस्ट-2 एडाप्टेबिलिटी टेस्ट- 2 और मेडिकल परीक्षा के आधार पर किया जाएगा।

आईएएफ अधिसूचना ने कहा, "आयु समूह 17.5 वर्ष से 21 वर्ष के बीच होना चाहिए। 29 दिसंबर 1999 और 29 जून 2005 (दोनों दिन सम्मिलित) के बीच जन्म लेने वाले उम्मीदवार आवेदन करने के पात्र हैं। यदि कोई उम्मीदवार चयन प्रक्रिया के सभी चरणों को पास कर लेता है, तो नामांकन की तिथि के अनुसार ऊपरी आयु सीमा 23 वर्ष है।"

आईएएफ अधिसूचना में कहा गया है कि "अग्निवीरवायु को भारतीय वायु सेना में वायु सेना अधिनियम 1950 के तहत चार साल की अवधि के लिए नामांकित किया जाएगा। अग्निवीरवायु किसी भी अन्य मौजूदा रैंक से अलग, भारतीय वायु सेना में एक अलग रैंक दिया जाएगा।"

अधिसूचना में आगे कहा गया है कि अग्निवीरवायु को भारतीय वायु सेना में आगे नामांकन के लिए चुने जाने का कोई अधिकार नहीं होगा। आगे नामांकन के लिए अग्निवीरवायु का चयन, यदि कोई हो, भारतीय वायु सेना के विवेक पर होगा। अग्निवीरवायु के पहले बैच का नामांकन दिसंबर तक होगा और प्रशिक्षण 30 दिसंबर तक शुरू होगा।

एयर मार्शल एस के झा ने कहा, अग्निवरों के पहले बैच के लिए पंजीकरण प्रक्रिया 24 जून से शुरू होगी। पहले चरण की ऑनलाइन परीक्षा प्रक्रिया 24 जुलाई से शुरू होगी। पहले बैच का नामांकन दिसंबर तक होगा और प्रशिक्षण 30 दिसंबर तक शुरू होगा। मालूम हो कि तीनों सेनाओं की संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस 19 जून को हुई थी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia