आखिरकार 11 दिनों के बाद वायुसेना ने की एएन-32 में सवार 13 लोगों की मौत की पुष्टि, कहा- कोई जीवित नहीं बचा

असम के जोरहाट एयरबेस से उड़ान भरने के बाद क्रैश हुए भारतीय वायुसेना के एएन-32 एयरक्राफ्ट में सवार सभी 13 लोगों की मौत हो गई है। इस बात की भारतीय वायुसेना ने गुरुवार को पुष्टी की।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

भारतीय वायुसेना की खोजी टीम गुरूवार सुबह एएन-32 विमान के दुर्घटनास्थल पर पहुंची, जहां उन्होंने कोई भी जीवित नहीं मिला। वायु सेना ने कहा कि इसी वजह से विमान में सवार 13 लोगों के परिवारों को सूचित कर दिया गया है कि कोई जीवित नहीं है।

इसके बाद वायुसेना ने हादसे में शहीद हुए जवानों के नाम जारी कर दिए। इस हादसे में विंग कमांडर जीएम चार्ल्स, स्कवाड्रन लीडर एच विनोद, फ्लाइट लेफ्टिनेंट आर थापा, फ्लाइट लेफ्टिनेंट ए तंवर, फ्लाइट लेफ्टिनेंट एस मोहंती, फ्लाइट लेफ्टिनेंट एमके गर्ग, वारंट ऑफिसर केके मिश्रा, सार्जेंट अनूप कुमार, कॉरपोरल शेरिन, लीडिंग एयरक्राफ्ट मैन एसके सिंह, लीडिंग एयरक्राफ्ट मैन पंकज, नॉन कॉम्बैंटेट (ई) पुतली और नॉन कॉम्बैंटेट (सी) राजेश कुमार शामिल हैं।

इससे पहले वायुसेना ने तलाशी अभियान के दौरान मंगलवार को लापता एएन-32 का मलबा अरुणाचल के सियांग जिले के जंगल में मिलने की पुष्टि की थी। इसके बाद बुधवार को दो हेलिकॉप्टर के जरिए 15 जवान और पर्वतारोही की टीम दुर्घटना वाली जगह के पास उतारी थी। वायु सेना की टीएम जंगल में गिरे मलबे और इसमें सवार लोगों की तलाश की थी।

वायुसेना ने ट्वीट करते हुए कहा, “भारतीय वायुसेना एएन-32 विमान हादसे में तीन जून 2019 को अपनी जान गंवाने वाले बहादुर एयर वॉरियर्स को श्रद्धांजलि देती है। दुख की इस घड़ी में हम पीड़ितों के परिवार के साथ खड़े हैं। उनकी आत्मा को शांति मिले।”

एन-32 विमान हादसे में 13 लोगों के मारे जाने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “10 दिनों तक भारत ने यह उम्मीद की और प्रार्थना की कि लापता विमान एएन-32 पर हमारे 13 जाबांज सुरक्षित रहें। अफसोस कि अब यह पुष्टि हो गई है कि सभी 13 जांबाज दुर्घटना में मारे गए हैं। दुर्घटना में मारे गए सभी 13 लोगों के लिए मेरी गहरी संवेदना। आप मेरे विचारों और प्रार्थनाओं में हैं।”

बता दें कि 3 जून को भारतीय वायुसेना का एएन-32 एयरक्राफ्ट असम के जोरहाट से उड़ान भरने के 35 मिनट बाद लापता हो गया था। इस एयरक्राफ्ट में 13 लोग सवार थे, जिसमें 8 क्रू मेंबर थे। यह अरुणाचल प्रदेश के मेचुका में एडवांस लैंडिंग ग्राउंड तक जा रहा था।

Published: 13 Jun 2019, 1:45 PM
लोकप्रिय