1 जनवरी तक अपनी गाड़ी पर ये नहीं लगाया तो बढ़ेंगी मुश्किलें! जानिए कैसे मिलेगा और कितनी है कीमत

FASTag एक टैग और स्टिकर है जिसे कार में आगे की तरफ लगाया जाता है। वहीं हाईवे पर टोल प्लाजा पर लगे स्कैनर गाड़ी पर लगे स्टीकर से डिवाइस रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) टेकनीक के जरिए स्कैन कर लेते हैं और जगह के हिसाब से पैसे अपने आप बैंक अकाउंट से वसूल लिए जाते हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

विनय कुमार

एक जनवरी से FASTag को सभी गाड़ियों पर लगाना अनिवार्य हो गया है। अब हाईवे पर टोल फास्टैग के जरिए ही वसूला जाएगा। इसके बाद टोल पर किसी से भी कैश नहीं लिया जाएगा। बता दें कि अभी हाईवे पर 80 फीसदी वाहनों से वाहन फास्टैग के जरिए ही वसूला जाता है।

जानिए क्या है FASTag?

FASTag एक टैग और स्टिकर है जिसे कार में आगे की तरफ लगाया जाता है। वहीं हाईवे पर टोल प्लाजा पर लगे स्कैनर गाड़ी पर लगे स्टीकर से डिवाइस रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) टेकनीक के जरिए स्कैन कर लेते हैं और जगह के हिसाब से पैसे अपने आप बैंक अकाउंट से वसूल लिए जाते हैं। इसका इस्तेमाल करने से गाड़ी को टोल पर रोकने की जरूरत नहीं होगी। अगर फास्टैग किसी प्रीपेड अकाउंट या फिर डेबिट/क्रेडिट कार्ड से लिंक नहीं है तो आपको इसे रिचार्ज कराना होगा।


जानिए इसकी कीमत

NHAI के अनुसार FASTag की कीमत 200 रुपये है। इसमें आप कम से कम 100 रुपये का रिचार्ज करा सकते हैं। जब तक फास्टैग स्कैनर पर स्कैन करेगा तब तक ये काम करेगा।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;