इमाम इलियासी को केंद्र सरकार ने दी वाई प्लस कैटेगरी की सुरक्षा, मोहन भागवत को बताया था राष्ट्रपिता

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आल इंडिया इमाम ऑर्गनाइजेशन के चीफ डॉक्टर उमर अहमद इलियासी को वाई प्लस कैटेगरी की सुरक्षा प्रदान की है। हाल ही में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत और इमाम दिल्ली के एक मस्जिद में मिले थे।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आल इंडिया इमाम ऑर्गनाइजेशन के चीफ डॉक्टर उमर अहमद इलियासी को वाई प्लस कैटेगरी की सुरक्षा प्रदान की है। हाल ही में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत और इमाम दिल्ली के एक मस्जिद में मिले थे। इसके बाद से ही उन्हें धमकियां मिल रही थी। खबरों के मुताबिक जबसे इमाम उमर अहमद इलियासी ने मोहन भागवत से मुलाकात कर उन्हें राष्ट्रपिता बताया था, उसके बाद से ही उन्हें लगातार धमकियां मिल रही थी। इसकी रिपोर्ट खुफिया एजेंसी इंटेलिजेंस ब्यूरो ने गृह मंत्रालय को दी थी। जिसके बाद गृह मंत्रालय ने उन्हें वाई प्लस कैटेगरी की सुरक्षा प्रदान करने का निर्णय लिया है।

जानकारी के मुताबिक इमाम इलियासी ने सोशल मीडिया पर भी धमकी मिलने की बात कही थी। वहीं हाल ही वो पीएफआई पर बैन का समर्थन भी कर चुके हैं। जानकारी के मुताबिक इन्हीं सब वजहों के चलते उन्हें देश और विदेश से धमकियों वाले फोन आ रहे थे।


गौरतलब है कि आल इंडिया इमाम ऑर्गनाइजेशन अपने को सबसे बड़ा इमाम संगठन बताता है और राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय मान्यता होने का दावा करता है। डॉक्टर उमर अहमद इलियासी इसी संगठन के प्रमुख हैं।

मोहन भागवत को बताया था राष्ट्रपिता

बता दें कि 22 सितंबर को दिल्ली एक मस्जिद में संघ प्रमुख मोहन भागवत और उमर अहमद इलियासी के बीच मुलाकात हुई थी। भागवत ने इस दौरान आजादपुर स्थित एक मदरसे का दौरा भी किया था। इलयासी ने संघ प्रमुख को 'राष्ट्र-पिता' और 'राष्ट्र-ऋषि' कहा था। उन्होंने मोहन भागवत की तारीफ करते हुए कहा था कि इससे समाज में काफी अच्छा संदेश जाएगा।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;