हालात

इमरान खान को अपने ही दिखा रहे आइना, जरदारी ने कहा कोई दोस्त तो बनाओ, पूर्व पत्नी बोली सेना की स्क्रिप्ट पढ़ दी

पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को उनके अपने ही आइना दिखा रहे हैं। पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने कहा कि पाकिस्तान का कोई अंतरराष्ट्रीय दोस्त नहीं, तो पूर्व पत्नी रेहम खान बोली की सेना की स्क्रिप्ट पढ़ रहे हैं इमरान खान।

फोटो : सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले के बाद भले ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान जंग का जवाब जंग से देने की बात कह रहे हैं, लेकिन उस मुद्दे पर उनके अपने मुल्क में ही कोई उनके साथ नहीं है। उनकी पूर्व पत्नी रेहम खान ने कहा कि वे सेना की लिखी स्क्रिप्ट पढ़ रहे हैं तो अब पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने कहा कि नए पाकिस्तान का राग अलापने वाले इमरान का कोई भी अंतरराष्ट्रीय दोस्त नहीं है।

पुलवामा हमले पर पहली बार प्रतिक्रिया देते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को नए पाकिस्तान का राग अलापा। उन्होंने भारत से सबूत मांगे। लेकिन हकीकत उनके अपने ही मुल्क से सामने आने लगी है। पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने सच्चाई कबूल करते हुए कहा है कि पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग पड़ चुका है।

दरअसल पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान पर लगातार अंतरराष्ट्रीय दबाव बन रहा है और उसकी बेचैनी बढ़ती जा रही है। यह हकीकत है कि पाकिस्तान पूरी दुनिया में आतंकियों की पनाहगाह के रूप में बदनाम हो चुका है, जिसके चलते ज्यादातर देशों ने उसे अलग-थलग कर दिया है।

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इमरान खान से सवाल पूछे। उन्होंने कहा कि, “क्या आपको दुनिया में देश का एक भी अंतरराष्ट्रीय दोस्त दिखाई देता है?” अपनी ही हुकूमत को आईना दिखाते हुए जरदारी ने साफ कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय में पाकिस्तान अलग-थलग पड़ चुका है और यह सामने नजर आ रहा है।

जरदारी ने कहा, “अगर आपको यह दिखाई नहीं देता है तो मैं दिखा देता हूं। हमारे इतने राजदूत और लोग दुनिया भर में हैं, पर आप अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना एक दोस्त बता दीजिए?” उन्होंने इमरान खान के नए पाकिस्तान की 'नई नीति' पर तंज कसते हुए कहा, “कुछ हमारे बैक सीट ड्राइवर्स ने अपने पब्लिक रिलेशंस से आपको सपॉर्ट करा दी है, वह भी कुछ मुस्लिम देशों से, लेकिन वह अंतरराष्ट्रीय सपोर्ट नहीं है।“

इससे पहले मंगलवार को ही इमरान खान की प्रेस काफ्रेंस के बाद भारतीय चैनलों से बात करते हुए उनकी पूर्व पत्नी और बीबीसी की पत्रकार रहीं रेहम खान ने कहा था कि इमरान खान सेना की लिखी हुई स्क्रिप्ट पढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा था कि, “इमरान खान सेना की मदद से सत्ता तक पहुंचे है और उन्होंने बहुत सारे कम्प्रोमाइज़ किए हैं। जिस तरह बारिश के चलते उन्होंने वर्ल्ड कप जीत लिया था, वैसे ही सेना की मदद से शेरवानी पहन ली है।”

लोकप्रिय