लोकसभा चुनाव से पहले यूपी में बीजेपी को बड़ा झटका, दलित सांसद सावित्री फुले ने छोड़ी पार्टी

आगामी लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी को उत्तर प्रदेश में बड़ा झटका लगा है। दलित समाज से आने वाली बहराइच से सांसद सावित्री बाई फुले ने बीजेपी पर समाज को बांटने का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया है।

By नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश में लोकसबा चुनावों से ठीक पहले बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। दलित समाज से आने वाली बहराइच से बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने पार्टी पर समाज को बांटने की कोशिश करने का आरोप लगाया है। उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी समाज में बंटवारे की साजिश कर रही है।

फुले केंद्र और यूपी की बीजेपी सरकारों पर निशाना साधने के लिए अक्सर सुर्खियों में बनी रहती हैं। आज भी इस्तीफा देने के बाद उन्होंने एक बार फिर पार्टी पर आरोप लगाए। इससे पहले भी दलित उत्पीड़न को लेकर वह अपनी पार्टी की सरकार को कठघरे में खड़ा कर चुकी हैं। हाल ही में उन्होंने उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा था।

भगवान हनुमान की जाति पर छिड़े विवाद पर मंगलवार को फुले ने हनुमानजी को दलित बताते हुए मनुवादियों का गुलाम ठहराया था। फुले का यह बयान योगी आदित्यनाथ द्वारा हनुमान जी को दलित बताने वाले बयान पर आया था।

गौरतलब है कि सावित्री बाई फुले की पहचान उत्तर प्रदेश में बीजेपी के एक बड़े दलित चेहरे के तौर पर रही है। पिछले लोकसभा चुनाव और फिर विधानसभा चुनाव में भी बड़े पैमाने पर बीजेपी को प्रदेश में दलित समाज का समर्थन मिला था। लेकिन अब प्रदेश का बड़ा दलित चेहरा सावित्री बाई फुले के पार्टी से इस्तीफा देने के बाद आने वाले चुनावों में बीजेपी के लिए मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं।

Most Popular