किसान आंदोलन के बीच अचानक दिल्ली के रकाबगंज गुरुद्वारा पहुंचे पीएम मोदी, गुरु तेग बहादुर के बलिदान को किया नमन

पीएम मोदी ने किसान आंदोलन के बीच गुरुद्वारा रकाबगंज पहुंचकर मत्था टेका है। गौर करने वाली बात यह भी है कि किसान आंदोलन में ज्यादातर किसान सिख समुदाय से हैं, जोकि पंजाब और हरियाणा के रहने वाले हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुबह गुरुद्वारा रकाबगंज पहुंचकर सिखों के नौवें गुरु गुरु तेग बहादुर को उनके सर्वोच्च बलिदान के लिए नमन किया। खबरों के मुताबिक, पीएम मोदी सुबह अचानक गुरुद्वारा रकाबगंज पहुंचे और सिख गुरुओं को नमन करते हुए मत्था टेका। उन्होंने गुरु गुरु तेग बहादुर को उनके सर्वोच्च बलिदान के लिए याद किया।

बताया जा रहा है कि जिस समय प्रधानमंत्री गुरुद्वारा गए उस समय सड़कों पर किसी तरह का पुलिस बंदोबस्त नहीं किया गया था और आम लोगों की सुविधा को देखते हुए ना ही बैरिकेड लगाए गए थे। गौर करने वाली बात यह है कि पीएम मोदी किसान आंदोलन के बीच गुरुद्वारा रकाबगंज पहुंचकर मत्था टेका है। गौर करने वाली बात यह भी है कि किसान आंदोलन में ज्यादातर किसान सिख समुदाय से हैं, जोकि पंजाब और हरियाणा के रहने वाले हैं।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रकाबगंज के दौरे की तस्वीरें शेयर की हैं। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, “आज सुबह मैंने ऐतिहासिक गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब में प्रार्थना की, जहां श्री गुरु तेगबहादुर जी के पवित्र शरीर का अंतिम संस्कार किया गया था। मैं बेहद खुशी हो रही है, दुनिया के लाखों लोगों की तरह मैं भी श्री गुरु तेगबहादुर जी के करुणा से प्रभावित और प्रेरित हूं।”

पीएम मोदी ने आगे कहा, “यहगुरु साहिब की विशेष कृपा है कि हमारी सरकार के कार्यकाल में हम गुरु तेगबहादुर जी का 400वां प्रकाश पर्व मनाएंगे। आइए इस एतिहासिक मौके गुरु तेगबहादुर जी के आदर्शों को याद करते हुए मनाएं।”

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 20 Dec 2020, 10:00 AM