छत्तीसगढ़: न्याय योजना की राशि से खरीदी जमीन को दिया 'मुख्यमंत्री खेत' का नाम, खुद चेतन बाई ने CM बघेल को सुनाया किस्सा

खुद चेतन बाई ने बलौदा बाजार के बिलाईगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को सुनाया और बताया कि कर्ज माफी से मिले लाभ और राजीव गांधी किसान न्याय योजना से मिले पैसों से 32 डिसमिल जमीन ली हूं, जिसका नाम मैने मुख्यमंत्री बाहरा (खेत) रखा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

छत्तीसगढ़ में सरकार द्वारा की गई कर्ज माफी से बचे पैसे और राजीव गांधी किसान न्याय योजना से मिली राशि से खेती के लिए एक महिला ने जमीन का छोटा सा टुकड़ा खरीदा और उसका नामकरण 'मुख्यमंत्री बाहरा' याने 'मुख्यमंत्री खेत' कर दिया। यह किस्सा खुद चेतन बाई ने बलौदा बाजार के बिलाईगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को सुनाया और बताया कि कर्ज माफी से मिले लाभ और राजीव गांधी किसान न्याय योजना से मिले पैसों से 32 डिसमिल जमीन ली हूं, जिसका नाम मैने मुख्यमंत्री बाहरा (खेत) रखा है।

चेतन बाई ने मुख्यमंत्री को बताया कि यह सरकार छोटे बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक की चिंता करती है। आज तक ऐसा मुख्यमंत्री नहीं देखा जिसने सभी का ध्यान रखा है। चेतन बाई ने बताया कि उनका 1 लाख 56 हजार रूपए का कर्ज माफ हुआ है, पैसे बचे हैं और अतिरिक्त आय भी हुई है। उन्हें राजीव गांधी किसान न्याय योजना में तीन लाख 42 हजार रूपए की राशि मिली है। बचत के पैसे और इस राशि से 32 डिसमिल जमीन खरीदी है, जिसका नाम मैंने मुख्यमंत्री बाहरा (खेत) रखा है।


उनकी बात सुनकर मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि अच्छा लगता है जब लोग बताते हैं कि हमने इस योजना का लाभ लेकर यह उपलब्धि हासिल की। कोई मोटरसाइकिल खरीद रहा है, तो कोई कार, कोई घर बनवा रहा है, तो कोई अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देने के लिए योजनाओं से मिले पैसे का उपयोग कर रहा है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;