गोवा में BJP के मंत्री ने दिया इस्तीफा, पार्टी पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- छोटे कार्यकर्ताओं को दरकिनार कर रही पार्टी

लोबो ने मंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कहा, "बीजेपी के साथ यह काफी अच्छी, लंबी यात्रा रही है। बीजेपी के कार्यकर्ता पार्टी से नाखुश हैं। शायद मैं भी गलत हूं। मैंने अपनी आंखों से देखा है, अपने कानों से सुना है।"

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

गोवा में भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार में बंदरगाह मंत्री माइकल लोबो ने विधानसभा चुनाव के करीब एक महीने पहले सोमवार को कैबिनेट और विधायक के रूप में इस्तीफा दे दिया। लोबो ने कहा कि गोवा में बीजेपी इतनी बड़ी हो गई है कि 'छोटी पार्टी' के कार्यकर्ताओं को दरकिनार किया जा रहा है।

लोबो ने मंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कहा, "बीजेपी के साथ यह काफी अच्छी, लंबी यात्रा रही है। बीजेपी के कार्यकर्ता पार्टी से नाखुश हैं। शायद मैं भी गलत हूं। मैंने अपनी आंखों से देखा है, अपने कानों से सुना है।"

लोबो ने कहा, "अन्य निर्वाचन क्षेत्रों के पार्टी कार्यकर्ताओं ने मुझे बताया है कि पार्टी इतनी बड़ी हो गई है कि वह छोटे कार्यकर्ताओं को नहीं देखती है। हम जमीनी स्तर के कार्यकर्ता हैं। हम उपेक्षित, दरकिनार महसूस करते हैं।"

मंत्री के रूप में अपने इस्तीफे के तुरंत बाद, लोबो ने एक विधायक के रूप में भी अपना इस्तीफा दे दिया।

लोबो ने कहा कि वह सोमवार दोपहर को पार्टी छोड़ रहे हैं, साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि उन्होंने अभी तक किसी विशेष राजनीतिक दल में शामिल होने का मन नहीं बनाया है।

कांग्रेस के करीबी सूत्रों ने बताया कि लोबो के जल्द ही विपक्षी दल में शामिल होने की उम्मीद है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia