15 लाख का वादा जुमला साबित होने पर कांग्रेस सांसदों का अनूठा विरोध, जारी किए मोदी के फोटो-सिग्नेचर वाले चेक

पीएम नरेंद्र मोदी ने 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान देश भर में घूम-घूमकर चुनाव जीतने पर  हर किसी के खाते में 15-15 लाख रुपये पहुंचाने का वादा किया था। लेकिन लगभग 5 साल पूरे होने के बाद भी वादा पूरा नहीं होने पर अब विरोध शुरू हो गया है।

नवजीवन डेस्क

लोकसभा चुनाव 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनाव जीतने पर लोगों के खाते में 15 लाख रुपये डालने का वादा किया था। हालांकि उनका ये वादा भी दूसरे वादों की तरह जुमला ही निकला और उनका वादा, वादा ही रह गया। उनके वादे पूरे नहीं होने का देश भर में विरोध हो रहा है।

कांग्रेस के सांसदों ने भी पीएम द्वारा अपने वादे पूरे नहीं किए जाने को लेकर विरोध किया है। लेकिन विरोध करने का कांग्रेस सांसदों का ये अंदाज जरा जुदा था। इस बार कांग्रेस सांसदों ने मोदी के सिग्नेचर के साथ 15-15 लाख रुपये का चेक जारी किया है। दरअसल मंगलवार को कांग्रेस सांसद संसद के बाहर हाथों में 15 लाख रुपये का नकली चेक लिए दिखे।

हालांकि ये चेक भी वास्तविक चेक की तरह ही दिख रहे हैं, लेकिन इन चेक पर फेंकू बैंक लिखा हुआ है और पीएम मोदी की फोटो भी लगी है। इतना ही नहीं इन चेक पर पीएम मोदी का असली सिग्नेचर भी चिपकाया गया है।

15 लाख का वादा जुमला साबित होने पर कांग्रेस सांसदों का अनूठा विरोध, जारी किए मोदी के फोटो-सिग्नेचर वाले चेक

आपको बता दें कि 2014 के आम चुनाव के दौरान बीजेपी ने कई हवा हवाई वादे किए थे। उन्हीं में से एक है 15 लाख रुपये देने का वादा। लेकिन जब उसे पूरा करने का वक्त आया तो उन्हीं वादों को जुमला करार दे दिया गया। इस वादे को पूरा नहीं किए जाने का लंबे वक्त से विरोध हो रहा है।

हालांकि चुनाव करीब देख एनडीए के नेता इस सपने को एक बार फिर से बेचने में लगे हैं। केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कुछ दिनों पहले कहा था कि आरबीआई से पैसों की मांग की जा रही है। लेकिन आरबीआई से पैसा दिया नहीं दिया जा रहा। पैसा मिलते ही धीरे-धीरे लोगों के खातों में डाल दिए जाएंगे। उन्होंने कहा था कि इसमें तकनीकी समस्याएं हैं।

हालांकि 2014 का चुनाव जीतने के बाद एक इंटरव्यू में बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह साफ तौर पर इस वादे को जुमला करार दे चुके हैं। उन्होंने कहा था कि चुनाव जीतने के लिए इस तरह के वादे किए जाते हैं।

लोकप्रिय