देश में ओमिक्रॉन से पहली मौत की पुष्टि, राजस्थान के बुजुर्ग ने दम तोड़ा, पहले से थे डायबिटीज़ के मरीज

भारत में कोरोना वायरस के वेरिएंट ओमिक्रॉन से पहली मौत की पुष्टि केंद्र सरकार ने की है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि राजस्थान के जिस बुजुर्ग की मौत हुई है उसे तकनीकी तौर पर ओमिक्रॉन से हुई मौत कहा जा सकता है।

सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
user

नवजीवन डेस्क

देश में कोरोना वायरस बहुत तेजी से पैर पसार रहा है, इसी बीच केंद्र सरकार ने पुष्टि की है कि देश में ओमिक्रॉन वेरिएंट से पहली मौत हुई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि राजस्थान में जिस बुजुर्ग की मौत हुई वह पहले से डायबिटीज़ समेत कई बीमारियों से ग्रसित थे। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव लव अग्रवाल ने बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि, “तकनीकी तौर पर राजस्थान में हुई मौत को ओमिक्रॉन से हुई मौत कहा जा सकता है। वह एक बुजुर्ग थे और उन्हें डायबिटीज समेत कई अन्य बीमारियां थीं।”

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि दुनिया भर में ओमिक्रॉन वेरिएंट से अब तक 108 लोगों की मौत हुई है। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान आईसीएमआर के प्रमुख डॉ बलराम भार्गव ने कहा कि, “देश में अब तक कोरोना संक्रमण के मामलों में 6.3 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है, जो सिर्फ बीते 8 दिनों में देखने को मिली है।” स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि वायरस का विस्तान चिंता का विषय है। डॉ भार्गव ने कहा कि, “शहरों में तेजी से फैल रहे वायरस में ओमिक्रॉन ही प्रमुख है और ऐसे में भीड़ वाले सभी कार्यक्रमों से बचना चाहिए।”


स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में अब तक ओमिक्रॉन के 2,135 केस सामने आए हैं। इनमें से सबसे ज्यादा केस महाराष्ट्र और देश की राजधानी दिल्ली में रिपोर्ट किए गए हैं। मंत्रालय ने कहा कि महाराष्ट्र के अलावा पश्चिम बंगाल, दिल्ली, केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक, झारखंड और गुजरात ऐसे राज्य हैं जहां कोरोना मामलों में बेहद तेजी से मामले बढ़ रहे हैं। मंत्रालय ने कहा कि, “देश के 28 जिलों में संक्रमण की दर 10 फीसदी के आसपास है।”

ध्यान रहे कि बुधवार को देश में 58 हजार से ज्यादा कोविड केस रिपोर्ट हुए हैं, साथ ही 534 लोगों की मौत भी रिपोर्ट की गई है। जबकि मंगलवार को 37,379 नए केस और 124 मौतें सामने आई थीं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia