भारतीय नौसेना ने समुद्री लुटेरों की गिरफ्त से 21 को छुड़ाया, लोगों ने ली राहत की सांस, लगाए 'भारत मां की जय' के नारे

भारतीय नौसेना द्वारा साझा किए वीडियो में एक भारतीय ने कहा कि उसे बहुत अच्छा महसूस हो रहा है। वहीं, एक अन्य ने कहा कि 24 घंटे से हम डर में थे। अब जाकर हमें राहत मिली है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

भारतीय नौसेना ने उत्तरी अरब सागर में हाईजैक हुए मालवाहक जहाज 'एमवी लीला नॉरफॉक' में समुद्री लुटेरों के चंगुल में फंसे सभी 21 लोगों को बचा लिया है। 21 लोगों में 15 भारतीय भी शामिल हैं। नौसेना ने एक वीडियो साझा किया है, जिसमें बचाए गए लोगों की खुशी देखी जा सकती है। लोग भारत माता की जय के नारे लगाते दिखाई दिए।

भारतीय नौसेना द्वारा साझा किए वीडियो में एक भारतीय ने कहा कि उसे बहुत अच्छा महसूस हो रहा है। वहीं, एक अन्य ने कहा कि 24 घंटे से हम डर में थे। अब जाकर हमें राहत मिली है। वहीं, एक ने कहा कि हम सब भारत की नौसेना पर गर्व महसूस करते हैं।

नौसेना के मार्कोस कमांडो के मुताबिक, खबर मिली थी कि जहाज पर हथियार से लैस 5 से 6 लोग सवार हैं, जिनके बारे में कुछ जानकारी नहीं है। जहाज का पता लगाने के लिए एक युद्धपोत, समुद्री गश्ती विमान पी-8 आई और लंबी दूरी के 'प्रीडेटर एमक्यू9बी ड्रोन' को तैनात किया गया। शुक्रवार को दोपहर बाद करीब 3:15 बजे अरब सागर में सोमालिया के तट के पास अगवा पोत को घेर लिया।

जवानों ने जहाज को चारों ओर से घेरने के बाद समुद्री लुटेरों को जहाज को छोड़ने के लिए पहले चेतावनी दी। इसके बाद भारतीय नौसेना के मार्कोस कमांडो अगवा पोत पर उतरे और उसकी तलाशी ली तो कोई लुटेरा वहां मौजूद नहीं था। ऐसे में लग रहा कि जब उन्होंने बड़ी संख्या में जवानों को देखा तो वो वहां से फरार हो गए।

जहाज के मालिक लीला ग्लोबल के मुख्य कार्यकारी स्टीव कुंजर ने भारतीय नौसेना को धन्यवाद दिया। उन्होंने जहाज पर मौजूद चालक दल की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने कठिन हालातों में होश न खोकर जिम्मेदारी से काम लिया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;