झारखंड के लोहरदगा में इंटरनेट सेवा पर रोक, हिंसा प्रभावित इलाके में धारा 144 लागू, धार्मिक जुलूस-सभा पर भी प्रतिबंध

रामनवमी मेले के दौरान हिराही-हेंदलासो गांव में पथराव और आगजनी की घटनाओं के बाद से तनाव फैला गया है। जानकारी के मुताबिक, इलाके में रामनवमी के जुलूस के दौरान कुछ लोगों ने भीड़ पर पथराव शुरू कर दिया, जिससे भगदड़ मच गई और आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

झारखंड के लोहरदगा जिले में रविवार को रामनवमी मेले के दौरान हिराही-हेंदलासो गांव में पथराव और आगजनी की घटनाओं के बाद इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। जिला प्रशासन के निर्देश पर अगले आदेश तक सेवा स्थगित की गई है। इसके अलावा हिंसा प्रभावित इलाकों में धारा 144 लगा दी गई है। प्रशासन ने सभी तरह के धार्मिक जुलूस और सभा को तत्काल प्रभाव से रद्द कर दिया है। प्रशासन और पुलिस की टीम प्रभावित इलाकों में कैंप कर रही है। अनुमंडल पदाधिकारी लोहरदगा की ओर से इस संबंध में दो अलग-अलग आदेश जारी किए गए हैं। पहले आदेश में कहा गया है कि लोहरदगा जिला अंतर्गत किसी भी प्रकार की धार्मिक सभा, धार्मिक अनुष्ठान एवं धार्मिक जुलूस के आयोजन के लिए दिए गए आदेश को तत्काल प्रभाव से अगले आदेश तक के लिए रद्द कर दिया गया है।

झारखंड के लोहरदगा में इंटरनेट सेवा पर रोक, हिंसा प्रभावित इलाके में धारा 144 लागू, धार्मिक जुलूस-सभा पर भी प्रतिबंध

रामनवमी मेले के दौरान हिराही-हेंदलासो गांव में पथराव और आगजनी की घटनाओं के बाद से तनाव फैला गया है। जानकारी के मुताबिक, इलाके में रामनवमी के जुलूस के दौरान कुछ लोगों ने भीड़ पर पथराव शुरू कर दिया, जिससे भगदड़ मच गई और आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। इसके बाद में दोनों पक्षों के लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। तनाव बढ़ने पर मेले में एक दर्जन से ज्यादा मोटरसाइकिल और एक पिकअप वैन में आग लगा दी गई। भोगता गार्डन के पास दो घरों में भी आग लगा दी गई।


लोहरदगा के डीसी और एसपी समेत कई वरिष्ठ अधिकारी इस मौके पर पहुंचे। पूरे इलाके में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। जिला प्रशासन के आला अधिकारियों का कहना है कि स्थिति पर काबू पा लिया गया है। पथराव की घटना में आधा दर्जन लोगों के घायल होने की खबर है। इनमें से दो लोगों मनोहर साहू और भोला सिंह को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia