लखीमपुर खीरी और सीतापुर में इंटरनेट सेवा बंद, कांग्रेस बोली- विपक्ष की आवाज को दबाने की कोशिश कर रही बीजेपी

लखीमपुर खीरी और सीतापुर में बुधवार को इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं है। एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि अगर कोई अप्रिय घटना नहीं हुई तो शाम तक प्रतिबंध हटाया जा सकता है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

लखीमपुर खीरी और सीतापुर में बुधवार को इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं है। ऐसी रिपोर्ट्स आ रही हैं कि कांग्रेस के कुछ नेता पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी और पीड़ित परिवार के सदस्यों से मुलाकात करने आ रहे हैं। हालांकि सेवाओं के बंद होने की कोई आधिकारिक सूचना नहीं दी गई है, एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यह एहतियात के तौर पर किया गया है।

उन्होंने कहा कि हम इलाके में तनाव पैदा करने की सभी कोशिशों को नाकाम करने की हर मुमकिन कोशिश कर रहे है। अगर कोई अप्रिय घटना नहीं हुई तो शाम तक प्रतिबंध हटाया जा सकता है।

कांग्रेस ने इंटरनेट सेवा बंद करने पर कहा कि घबराई हुई यूपी सरकार ने सीतापुर में इंटरनेट बंद कर दिया है, जहां प्रियंका गांधी 48 घंटे से अधिक समय से अवैध रूप से रखा गया है। केंद्र और राज्य में बीजेपी का तानाशाही शासन विपक्ष की आवाज को दबाने की कोशिश कर रहा है.वे सफल नहीं होंगे। हम नहीं रुकेंगे।


गौरतलब है कि कांग्रेस सांसद राहुल गांधी को लखनऊ और फिर सीतापुर में प्रियंका से मिलने आना था। हालांकि, राज्य प्रशासन ने उन्हें अनुमति देने से इनकार कर दिया है।

बता दें कि रविवार को डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य तय कार्यक्रम के तहत लखीमपुर खीरी के दौरे पर थे। उन्हें रिसीव करने के लिए गाड़ियां जा रही थीं। ये गाड़ियां केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा की बताई गईं। रास्ते में तिकुनिया इलाके में किसानों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। इससे झड़प हो गई। बाद में ऐसा आरोप लगाया गया कि आशीष मिश्रा ने किसानों के ऊपर गाड़ी चढ़ा दी, जिससे 4 लोगों की मौत हो गई। किसानों की मौत के बाद मामला बढ़ गया और हिंसा भड़क गई।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 06 Oct 2021, 11:15 AM