ट्रैक्टर मार्च में बवाल के बाद दिल्ली के कई इलाकों में इंटरनेट बंद, पुलिस को सख्ती के निर्देश

दिल्ली में आज किसान ट्रैक्टर परेड के दौरान हुए बवाल को देखते हुए सरकार ने कई इलाकों में रात 12 बजे तक अस्थायी रूप से इंटरनेट सेवा बंद कर दी है। गृह मंत्रालय के आदेश पर सिंघु, गाजीपुर, टिकरी, मुकरबा और नांगलोई बॉर्डर के इलाकों में इंटरनेट बंद की गई है।

फोटोः बिपिन
फोटोः बिपिन
user

नवजीवन डेस्क

नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों द्वारा आज गणतंत्र दिवस के मौके पर राजधानी दिल्ली के अंदर निकाले गए ट्रैक्टर परेड के दौरान कई जगहों पर बवाल के बाद स्थिति को संभालने के लिए सरकार के आदेश पर कई जगहों में इंटरनेट सेवाएं रोक दी गईं हैं। शहर की लगभग सभी टेलीकॉम फर्मों को निर्देश दिया गया है कि जब तक स्थिति नियंत्रण में नहीं आ जाती है या आगे के निर्देश नहीं दिए जाते, तब तक सेवा को रोक दिया जाए।

दिल्ली में किसान ट्रैक्टर परेड में हुए उपद्रव के बाद शाम में गृह मंत्रालय के आदेश पर सिंघू, गाजीपुर, टिकरी बॉर्डर, मुकरबा चौक और नांगलोई के साथ-साथ आस-पास के क्षेत्रों में रात 11.59 बजे तक इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं। आदेश में कहा गया है कि ऐसा 'सार्वजनिक सुरक्षा' बनाए रखने के लिए किया गया है। जियो, एयरटेल, आइडिया जैसे टेलीकॉम ऑपरेटर्स ने बाधित इंटरनेट सेवाओं के बारे में संदेशों के जरिये अपने ग्राहकों को सूचित किया है।

इस बीच राजधानी दिल्ली में आज किसानों के ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई घटना को लेकर चौतरफा घिरे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अब से थोड़ी देर पहले इंटेलिजेंस और दिल्ली पुलिस के अधिकारियों के साथ उच्च स्तर की बैठक की। बैठक में पुलिस को उपद्रवियों के साथ सख्ती से निपटने का आदेश दिया गया। इसके साथ ही राजधानी में बड़ी संख्या में अर्द्धसैनिक बल के जवानों को तैनात करने का भी फैसला हुआ है। गृहमंत्री के साथ बैठक के बाद दिल्ली पुलिस के कमिश्नर ने अधिकारियों को उपद्रवियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दे दिए हैं।

इससे पहले गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली में ट्रैक्टर परेड में हुए उपद्रव की घटनाओं के बाद संयुक्त किसान मोर्चा ने बयान जारी कर कहा कि सभी प्रयासों के बावजूद कुछ संगठनों और व्यक्तियों द्वारा रूट का उल्लंघन करने का निंदनीय काम किया गया। कुछ असामाजिक तत्वों ने शांतिपूर्ण आंदोलन में घुसपैठ की। मोर्चा ने कहा कि हम उन अवांछनीय और अस्वीकार्य घटनाओं की भी निंदा करते हैं, जो आज घटित हुई हैं। ऐसे कृत्यों में लिप्त होने वाले लोग हमारे सहयोगी नहीं हैं।

बता दें कि विवादित कृषि कानूनों के खिलाफ दो महीने से भी ज्यादा समय से दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसानों ने आज 26 जनवरी के मौके पर दिल्ली में ट्रैक्टर मार्च निकालने का ऐलान किया था। दिल्ली पुलिस से लंबी चर्चा के बाद कुछ शर्तों के साथ परेड की अनुमति मिली थी। लेकिन आज सुबह जैसे ही किसानों ने विभिन्न सीमाओं से दिल्ली के लिए कूच किया तो जगह-जगह पुलिस ने अवरोध खड़ा कर उन्हें रोकने की कोशिश की, जिसके बाद कई जगहों पर किसानों और पुलिस के बीच झड़प हो गई। इस दौरान दिल्ली पहुंचे किसानों के एक जत्थे ने लाल किले में घुसकर वहां निशान साहिब का झंडा फहरा दिया।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia