IOA अध्यक्ष पीटी उषा धरना दे रहे पहलवानों से मिलने जंतर-मंतर पहुंचीं, क्या दूर होगी नाराजगी?

बीते दिनों पीटी उषा द्वारा दिए एक बयान के कारण पहलवान उनसे नाराज बताए जा रहे हैं। उन्होंने कहा था कि धरने पर बैठे खिलाड़ी अनुशासनहीन हैं और देश की छवि को खराब कर रहे हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश की राजधानी दिल्ली के जंतर-मंतर पर देश के मान बढ़ाने वाले पहलवानों का धरना प्रदर्शन जारी है। पहलवान कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष और बीजेपी सांसद बृजभूषण सरन सिंह के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। ये लोग  बता दें कि महिला पहलवानों ने बीजेपी सांसद पर यौन उत्पीड़न समेत कई गंभीर आरोप लगाए हैं। इसी बीच इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन की अध्यक्ष पीटी उषा भी प्रदर्शन कर रहे पहलवानों से मिलने पहुंची हैं। बीते दिनों पीटी उषा द्वारा दिए एक बयान के कारण पहलवान उनसे नाराज बताए जा रहे हैं। उन्होंने कहा था कि धरने पर बैठे खिलाड़ी अनुशासनहीन हैं और देश की छवि को खराब कर रहे हैं।

इस बयान के कुछ दिन बाद इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन की अध्यक्ष पीटी उषा पहलवानों से मिलने जंतर-मंतर गईं हैं। पीटी उषा यहां विनेश फोगाट और संगीत फोगाट से बातचीत करती नजर आई। धरना दे रहे पहलवान पीटी उषा के बयान से काफी नाराज थे। साक्षी मलिक से लेकर विनेश फोगाट ने पीटी उषा के खिलाफ नाराजगी जाहिर की थी।


बता दें कि, पीटी उषा ने पहलवानों के विरोध प्रदर्शन पर सवाल उठाए थे। उन्होंने पहलवानों पर भारत की छवि खराब करने के आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि खिलाड़ियों का सड़कों पर उतरकर विरोध करना उचित नहीं है। उन्होंने कहा कि उन्हें कमेटी की रिपोर्ट का इंतजार करना चाहिए। उन्होंने जो किया है वह खेल और देश के लिए अच्छा नहीं है। यह एक नकारात्मक नीति है', उन्होंने आलोचना की। पहलवानों ने कहा कि विरोध करना अनुशासनहीनता है।

उनके इस बयान पर पहलवानों ने नाराजगी जाहिर की थी। बजरंग पुनिया ने मीडिया से कहा था कि उन्हें आईओए अध्यक्ष से समर्थन की उम्मीद थी, लेकिन उन्हें इतनी कठोर प्रतिक्रिया की उम्मीद नहीं थी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;