इजरायल-हमास युद्ध: प्रियंका बोलीं- बमबारी में 16 हजार निर्दोष लोग मारे गए, भारत सरकार से सही का साथ देने को कहा

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा, "गाजा पर निर्दयी बमबारी युद्धविराम से पहले की तुलना में और भी अधिक बर्बरता के साथ जारी है। खाद्य आपूर्ति दुर्लभ है, चिकित्सा सुविधाएं नष्ट हो गई हैं और बुनियादी सुविधाएं बंद कर दी गई हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने गुरुवार को गाजा में "निर्दयी" बमबारी की निंदा की और कहा कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के सदस्य के रूप में यह भारत का कर्तव्य है कि जो सही है वह उसके लिए खड़ा हो।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा, "गाजा पर निर्दयी बमबारी युद्धविराम से पहले की तुलना में और भी अधिक बर्बरता के साथ जारी है। खाद्य आपूर्ति दुर्लभ है, चिकित्सा सुविधाएं नष्ट हो गई हैं और बुनियादी सुविधाएं बंद कर दी गई हैं, 16 हजार निर्दोष नागरिक मारे गए हैं, जिनमें लगभग 10 हजार बच्चे, 60 से अधिक पत्रकार और सैकड़ों चिकित्सा कर्मचारी शामिल हैं।" उन्होंने कहा कि "एक पूरे देश का सफाया हो रहा है"।

प्रियंका गांधी ने सवाल किया, "ये हममें से बाकी लोगों की तरह ही सपने और उम्मीदें रखने वाले लोग हैं। हमारी आंखों के सामने उन्हें बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया जा रहा है। हमारी मानवता कहां है?"

उन्होंने कहा, "भारत हमेशा अंतर्राष्ट्रीय मंच पर जो उचित है उसके लिए खड़ा रहा है। हमने दक्षिण अफ्रीका के रंगभेदी शासन के खिलाफ प्रतिबंधों के लिए लड़ाई लड़ी, हमने स्वतंत्रता के लिए उनके लंबे संघर्ष की शुरुआत से फिलिस्तीन में अपने भाइयों और बहनों का समर्थन किया, और अब हम पीछे खड़े रहते हैं और कुछ नहीं करते हैं क्योंकि एक नरसंहार होता है जो पृथ्वी से उनका चेहरा मिटा देता है?

उन्होंने कहा, "अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के सदस्य के रूप में यह भारत का कर्तव्य है कि वह जो सही है उसके लिए खड़ा हो। हमें जल्द से जल्द युद्धविराम सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास करना चाहिए।"

उनकी यह टिप्पणी इजरायल द्वारा दक्षिण गाजा में हमले तेज करने के बाद आई है। सात दिनों के संघर्ष विराम के बाद 1 दिसंबर को हमास के साथ युद्ध फिर से शुरू करने के बाद आईडीएफ ने दक्षिण गाजा में प्रवेश किया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;