जम्मू-कश्मीर: पुलवामा को फिर दहलाने की साजिश नाकाम, सुरक्षा बलों ने IED से भरी कार को बरामद कर उड़ाया

पुलवामा में बरामद कार को मौके से हटाकर कहीं और ले जाना संभव नहीं था। यही वजह है कि सुरक्षा बलों ने कार को वहीं पर नियंत्रित विस्फोट के जरिए उड़ा दिया। कार में भारी मात्रा में विस्फोटक भरे हुए थे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा को आतंकियों ने फिर दहलाने की साजिश रची थी। सुरक्षा बलों ने पुलवामा में बड़े आतंकी हमले को नाकाम कर दिया है। सुरक्षा बलों ने पुलवामा के अयानगुंड इलाके में एक सैंट्रो कार में भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया है। कार में आईईडी का भी इस्तेमाल किया गया था। सुरक्षा बलों ने कार को संदिग्ध हालत में पाया। जब कार की जांच की तो अंदर से भारी मात्रा में विस्फोटक मिले।

बताया जा रहा है कि कार को मौके से हटाकर कहीं और ले जाना संभव नहीं था। यही वजह है कि सुरक्षा बलों ने कार को वहीं पर नियंत्रित विस्फोट के जरिए उड़ा दिया। कार में भारी मात्रा में विस्फोटक भरे हुए थे, कार को उड़ाने से आसपास के कई घरों को नुकसान पहुंचा और जोरदार धमाके की आवाज सुनाई दी।

कार में नियंत्रित विस्फोट करने से पहले सुरक्षा बलों ने आसपाल के इलाके को खाली कराया, क्योंकि गाड़ी में विस्फोटक की मात्रा इतनी ज्यादा थी कि उससे आसपास के लोगों को नुकसान होने की आशंका थी।

कहा जा रहा है कि पुलवामा में 2019 जैसी बड़े आतंकी हमले को अंजाम देने की साजिश रची गई थी। आतंकियों की कोशिश थी कि कार में धामाका कर बड़ा नुकासान पहुंचाया जाए, लेकिन सुरक्षा बलों की सतर्कता से हमले को टाल दिया गया।

14 फरवरी, 2019 को पुलवामा में बड़ा आतंकी हमला हुआ था:

पिछले साल 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर विस्फोटकों से भरी गाड़ी के जरिए आतंकी हमला किया गया था। हमले में देश के 40 जवान शहीद हो गए थे। जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने आईईडी से भरी कार को सेना के काफिले से भिड़ा दिया था, जिससे भारी तबाही हुई थी। इस हमले के बाद पूरे देश में शोक की लहर दौड़ पड़ी थी। पूरा देश आक्रोश में था। इतने बड़े आतंकी हमले को पुलवामा में कैसे अंजाम दे दिया गया, इसे लेकर कई गंभीर सवाल भी खड़े किए गए थे।

Published: 28 May 2020, 10:52 AM
लोकप्रिय