हालात

जम्मू-कश्मीर: बांदीपोरा रेप के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन, छात्रों ने की पत्थरबाजी तो पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले

जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा जिले में तीन साल की बच्ची के साथ रेप के खिलाफ चल रहा विरोध प्रदर्शन आज हिंसक हो गया। श्रीनगर के अमर सिंह कॉलेज में  विरोध प्रदर्शन के दौरान छात्रों और सुरक्षा बलों के बीच झड़प हो गई। वहीं सोमवार को हिंसक प्रदर्शन में 47 सुरक्षाकर्मी घायल हो गए।

फोटो: सोशल मीडिया 

नवजीवन डेस्क

जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा जिले में 3 साल की मासूम बच्ची के साथ रेप को लेकर घाटी में तनाव बढ़ता जा रहा है। श्रीनगर के अमर सिंह कॉलेज के छात्र इस घटना को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। इसी दौरान छात्रों और सुरक्षाबलों के बीच झड़प हो गई। बताया जा रहा है कि पुलिस द्वारा प्रदर्शन रोकने पर छात्र नाराज हो गए और पुलिस पर पत्थरबाजी की।

खबरों के मुताबिक, कॉलेज कैंपस में विरोश प्रदर्शन कर रहे छात्र बाहर निकलकर सड़क पर आना चाहते थे। इस दौरान वहां तैनात सुरक्षाबलों से उनकी भिडंत हो गई। जिसके बाद छात्रों ने कॉलेज परिसर के अंदर से पुलिस पर पत्थर फेंकने लगे। हालांकि कॉलेज प्रशासन का दावा है कि वह स्थिति को नियंत्रित करने की पूरी कोशिश कर रहे थे।

जम्मू-कश्मीर: बांदीपोरा रेप के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन, छात्रों ने की पत्थरबाजी तो पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले

सोमवार को भी जम्मू-कश्मीर इस घटना के विरोध में हिंसक प्रदर्शन हुए। कई जगहों पर विरोध प्रदर्शनों में कई लोग घायल हुए, जिनमें से कुछ गंभीर रूप से घायल हुए हैं। पुलिस ने बताया कि झड़पों के दौरान 47 सुरक्षाकर्मी भी घायल हुए हैं। बताया जा रहा है कि प्रदर्शन के दौरान सुरक्षा बलों पर पत्थर फेंके गए जिसके कारण वे घायल हुए। इस दौरान श्रीनगर के अधिकांश हिस्सों में बंद रखा गया।

जम्मू-कश्मीर: बांदीपोरा रेप के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन, छात्रों ने की पत्थरबाजी तो पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले

बता दें कि मासूम बच्ची जहां रहती है वहीं के एक स्थानीय युवक ने उसे टॉफी खिलाने बहाने एक स्कूल के अंदर ले गया और वहां के टॉयलेट में बच्ची को अपनी हवस का शिकार बनाया। घटना सामने के बाद पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया था। वहीं पुलिस ने आरोपी की उम्र के बारे में गलत जानकारी देने के लिए स्कूल के प्रिंसिपल को भी गिरफ्तार किया है।

लोकप्रिय