जम्मू-कश्मीरः पैंथर्स पार्टी के संस्थापक भीम सिंह का निधन, पीएम मोदी, उमर अब्दुल्ला ने शोक व्यक्त किया

ऊधमपुर के रामनगर में 17 अगस्त, 1941 को जन्मे भीम सिंह पैंथर्स पार्टी के गठन से पहले कांग्रेस में थे। वर्ष 1977-78 के दौरान वह यूथ कांग्रेस के उपाध्यक्ष थे। उन्होंने 1982 में भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव के शहीदी दिवस 23 मार्च को पैंथर्स पार्टी की नींव रखी।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

जम्मू-कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी के संस्थापक और वरिष्ठ नेता भीम सिंह का मंगलवार सुबह निधन हो गया। उनके परिवार के सदस्यों के अनुसार भीम सिंह ने मंगलवार की सुबह जम्मू के बख्शी नगर अस्पताल में आखिरी सांस ली। 80 साल के प्रोफेसर भीम सिंह लंबे समय से बीमार थे। प्रो. भीम सिंह के परिवार में पत्नी जयमाला और उनका एक बेटा अंकित लव है। दोनों विदेश में रहते हैं।

भीम सिंह छात्र जीवन से ही सक्रिय राजनीति में शामिल हो गए थे। ऊधमपुर जिले के रामनगर में 17 अगस्त, 1941 को जन्मे सिंह पैंथर्स पार्टी के गठन से पहले कांग्रेस पार्टी में थे। वर्ष 1977-78 के दौरान वह यूथ कांग्रेस के उपाध्यक्ष थे। उन्होंने 1982 में शहीद-ए-आजम भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव के शहीदी दिवस 23 मार्च को जम्मू-कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी की स्थापना थी।


पारिवारिक सूत्रों ने कहा, "वह एक साल से अधिक समय से अस्वस्थ थे। जम्मू के एक अस्पताल में उनका निधन हो गया। वह 81 वर्ष के थे। उनके परिवार में पत्नी और बेटा है। बेटा लंदन में रहता है।" पैंथर्स पार्टी के प्रमुख के रूप में सिंह ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी का मामला पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट में लड़ने के लिए फ्री में सहायता की पेशकश की थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर पैंथर्स पार्टी (जेकेपीपी) के संस्थापक भीम सिंह के निधन पर दुख व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा, "प्रोफेसर भीम सिंह जी को एक जमीनी नेता के रूप में याद किया जाएगा, जिन्होंने जम्मू-कश्मीर के कल्याण के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। वह बहुत पढ़े-लिखे और विद्वान थे। मैं उनके साथ अपनी बातचीत को हमेशा याद रखूंगा। उनके निधन से दुखी हूं। उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदना। ओम शांति।"


भीम सिंह के निधन पर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने भी गहरा दुख व्यक्त किया है। अपने संदेश में उन्होंने भीम सिंह के साथ अपने पिता के संबंधों को याद करते हुए उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। भीम सिंह के निधन पर राजनेताओं, सामाजिक कार्यकर्ताओं, व्यापारियों सहित समाज के विभिन्न वर्गो ने शोक व्यक्त किया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia